×

Gurmeet Ram Rahim: गुरमीत राम रहीम को जेल विभाग से राहत, करीब एक महीने की पैरोल मंजूर

Gurmeet Ram Rahim: जेल विभाग ने राम रहीम की पैरोल मंजूर करते हुए उन्हें भारी पुलिस सुरक्षा भी प्रदान की गई है । बताया जा रहा है कि राम रहीम उत्तर प्रदेश के बागपत जिले स्थित आश्रम में रहेंगे।

Rajat Verma
Written By Rajat Verma
Updated on: 17 Jun 2022 5:11 AM GMT
Gurmeet Ram Rahim
X

गुरमीत राम रहीम (फोटो: सोशल मीडिया ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Gurmeet Ram Rahim News: हरियाणा (Haryana) स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) को जेल विभाग ने राहत प्रदान करते हुए उनकी एक महीने की पैरोल याचिका को मंज़ूरी प्रदान कर दी है। आपको बता दें कि गुरमीत राम रहीम हत्या, बलात्कार, और दुष्कर्म के कई मामलों में अपनी रोहतक की सुनारिया जेल (sunaria jail) में अपनी सजा काट रहे हैं। जेल विभाग ने राम रहीम की पैरोल (parole for one month) मंजूर करते हुए हुए उनके साथ उन्हें भारी पुलिस सुरक्षा भी प्रदान की गई है तथा 1 माह की पैरोल पर जेल से बाहर आने के बाद बताया जा रहा है कि राम रहीम उत्तर प्रदेश के बागपत जिले स्थित आश्रम में रहेंगे।

आपको बता दें कि डेरा सच्चा सौदा आश्रम में रहने वाली दो साध्वियों ने बाबा राम रहीम के खिलाफ बलात्कार और 2 अन्य की हत्या का आरोप लगाया था, जिसके बाद प्रशासन ने डेरा में जांच टीमों को कार्यवाई के लिए भेजने के साथ ही सीबीआई की विशेष अदालत ने अगस्त 2017 में गुरमीत राम रहीम को दोषी करार देते हुए गिरफ्तार करने का फैसला सुनाया था।

फिलहाल, रोहतक जेल विभाग ने राम रहीम की 21 दिन की पैरोल मंजूर कर दी है। पैरोल मंज़ूरी के बाद आज सुबह के समय करीब साढ़े पांच बजे गुरमीत राम रहीम कड़ी सुरक्षा के साथ जेल से बाहर आया है।

तीसरी बार मंजूर हुई राम रहीम की पैरोल

गुरमीत राम रहीम पर हरियाणा प्रदेश और जेल प्रशासन दोनों ही बेहद मेहरबान नज़र आ रहा है। गुरमीत राम रहीम पर संगीन अपराध की धाराओं के तहत मामला होने के बावजूद भी अबतक बगैर किसी समस्या के उनकी पैरोल तीन बार मंजूर हो चुकी है। सबसे पहले बीते वर्ष उसकी मां की बीमारी के चलते प्रशासन ने राम रहीम की पैरोल मंजूर की थी वहीं दूसरी बार 7 फरवरी 2022 में ही राम रहीम की 21 दिन की पैरोल को मंज़ूरी प्रदान करते हुए जेड श्रेणी की सुरक्षा भी प्रदान की गई थी, जिसको लेकर हरियाणा सरकार पर आरोपियों को विशेष सुविधा देने के सवालिया निशान खड़े हो गए थे।

Monika

Monika

Next Story