Top

हरियाणा: JJP MLA की तबीयत बिगड़ी, मेदांता में भर्ती, हालत गंभीर

जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम की गुरुवार को अचानक हालत बिगड़ गई। नारनौंद के विधायक रामकुमार गौतम की हालत को देखते हुए ..

Shweta

ShwetaBy Shweta

Published on 2 April 2021 8:28 AM GMT

हरियाणा: JJP MLA की तबीयत बिगड़ी, मेदांता में भर्ती, हालत गंभीर
X

जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम ( सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हरियाणाः जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम की गुरुवार को अचानक हालत बिगड़ गई। नारनौंद के विधायक रामकुमार गौतम की हालत को देखते हुएउन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में तत्काल भर्ती करवाया गया।

जानिए पूरी खबरः

जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम की हालत शाम करीब चार बजे बिगड़ गई। जिसके बाद से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि उनके फेफड़ों में इंफेक्शन और सांस लेने में काफी परेशानी हो रही थी।

किसने दिया सूचनाः

आप को बता दें कि विधायक रामकुमार गौतम की हालत खराब होने की सूचना उनके पुत्र रजत गौतम ने दिया। उन्होंने बताया कि वह पिछले तीन-चार दिनों से कमजोरी महसूस कर रहे थे। जब जांच करवाई गईतो पता चला कि उन्हें टाइफाइड हो गया है। और उनके फेफड़ों में भी इन्फेक्शन फैल गया है। दो दिन पहले ही जब उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया तो उसमें उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आयी ।

समर्थक कर रहें प्रार्थनाः

विधायक की हालत की सूचना पाकर उनके समर्थकों को में दुख का माहौल बन गया। जिसके बाद से सभी समर्थक उनके ठीक होने की कामना कर रहे है। आप को बता दें कि राम कुमार गौतम जेजेपी की टिकट से नारनौंद से चुनाव लड़े थे। उन्होंने पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु को हराया था. वह पहले भी एक बार विधायक रह चुने है। यह अपने बेबाक बातों से हमेशा लोगों में बने रहते है।

किसान आंदोलन खत्म करे सरकारः

वही विधायक रामकुमार ने बजट सत्र में कहा था कि सरकार को किसान आंदोलन खत्म कर देना चाहिए। वरना यहबहुत ही खतरनाक हो जाएगा। आप को बता दें कि विधायक ने दुष्यंत पर तंज कसते हुए कहा कि हरियाणा में देश की सबसे ज्यादा बुढ़ापा पेंशन मिल रही है। वहीं सरकर में जो लोग बेरोजगार हैं उनके बच्चों को 5 नंबर और जिनके अभिभावक नहीं हैं, उनको भी 5 नंबर दिए हैं, यह अच्छा निर्णय है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shweta

Shweta

Next Story