Top

ब्लैक में बेच रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन, पकड़े गए तीन युवक

इस समय देश एक तरफ कोरोना महासंकट से जूझ रहा है तो वहीं दूसरी ओर लोग इसका फायदा उठा रहे हैं। सस्ती दवाइयां इस समय महंगें दामों में बेचा जा रहा है

Newstrack

NewstrackNewstrack Network NewstrackShwetaPublished By Shweta

Published on 28 April 2021 6:31 AM GMT

रेमडेसिविर  इंजेक्शन
X

रेमडेसिविर  इंजेक्शन (फोटो सौजन्य से सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पानीपतः इस समय देश एक तरफ कोरोना महासंकट से जूझ रहा है तो वहीं दूसरी ओर लोग इसका फायदा उठा रहे हैं। सस्ती दवाइयां इस समय महंगें दामों में बेचा जा रहा है। मजबूर और असहाय लोग अपने मरीजों की जान बचाने के लिए मंहगी दवाइयां खरीद रहे हैं।

बता दें कि इस समय रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजेक्शन की तेजी से कालाबाजारी चल रहा है। एक ऐसा ही मामला पानीपत के पुलिस की नजरों में आया है। जिसमें पुलिस ने रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजक्शन बेचने वाले गिरोह को गिरफ्तार कर लिया है।

इसकी जानकारी डीएसपी सतीश वत्स ने दी। उन्होंने बताया कि सीआईए-व् पुलिस टीम ने कोविड-19 की जंग में सजगता व सर्तकता रखते हुए आज सेक्टर-18 में गर्वमेंट कॉलेज के पास से तीन युवकों से अवैध रुप से रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजेक्शन बचेते हुए पकड़ लिया। इन आरोपियों के पास से 19 रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजेक्शन बरामद किया गया है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान केशव उर्फ कन्नू पुत्र राजकुमार निवासी कलंदर चौक, सुनील पुत्र चन्द्रसिह निवासी जलालपुर व सुमित पुत्र श्री कृष्ण निवासी गुरूनानकपुरा कच्चा कैम्प पानीपत के रुप मे हुई। यह सभी आरोपी रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजक्शन को 35 हजार रूपये में बेच रहे थे।

आरोपियों पर मुकदमा दर्ज

आपको बताते चलें कि पुलिस के माने तो आरोपियों की तलाशी लेने पर 19 रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजेक्शन बरामद हुआ। इतना ही नहीं जब तीनों युवकों के पास से इंजेक्शन के खरीद रिकॉर्ड, दवाओं की बिक्री लाइसेंस, लाइसेंस दिखाने के लिए कहा गया तो उनके पास न कोई लाईसेंस है और न ही रसीद। ड्रग कन्ट्रोल ऑफिसर विजय राजे की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ ड्रग व कास्मेटिक एक्ट व आईपीसी की विभिन्न धाराओ के तहत थाना सेक्टर 13/17 मे मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई अमल में लाई गई। फिलहाल तीनों आरोपियों को न्यायालय में पेशी के बाद पुलिस रिमांट पर लिया जाएगा।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Shweta

Shweta

Next Story