×

Himachal Pradesh Tourist Places: हिमाचल प्रदेश के ऐसी जगह, जो कराएं आपको जन्नत का एहसास

Himachal Pradesh Tourist Places: प्राकृतिक सुंदरता और हरियाली को लेकर प्रसिद्ध राज्य हिमाचल प्रदेश। जिसकी खुबसूरत वादियां पर्यटकों को अपने ओर आकर्षित करती है। हिमाचल की प्राकृतिक सुंदरता को देखकर हर कोई एक बार जरूर घूमना चाहेगा।

Deepak Kumar

Written By Deepak KumarPublished By Network

Published on 26 Dec 2021 4:15 PM GMT

Himachal Pradesh Tourist Places
X

हिमाचल प्रदेश पर्यटन स्थल। (Social Media) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Himachal Pradesh Tourist Places: प्राकृतिक सुंदरता और हरियाली को लेकर प्रसिद्ध राज्य हिमाचल प्रदेश। जिसकी खुबसूरत वादियां पर्यटकों को अपने ओर आकर्षित करती है। हिमाचल की प्राकृतिक सुंदरता को देखकर हर कोई एक बार जरूर घूमना चाहेगा। हर साल यहां हजारों की संख्या में पर्यटक घूमने आते हैं। हालांकि इस कोरोना महामारी में पर्यटकों की संख्या में थोड़ी कमी जरूर आई थी।

हिमाचल प्रदेश अपनी निर्मल झीलें, ऊंचे पहाड़ और प्राचीन मंदिरों के लिए जाना जाता है। साथ में कई ऐसे पर्यटक स्थल हैं, जो पर्यटकों को जन्नत का एहसास दिलाता है। हिमाचल को देवभूमि भी कहा जाता है, यहां धार्मिक दृष्टि से कई पर्यटक स्थल मौजूद हैं। आइए आज आपको हम हिमाचल के पर्यटक स्थलों के बारे बताने जा रहे हैं, जो सैलानियों का केंद्र रहते हैं।


शिमला

शिमला की हिमाचल प्रदेश की राजधानी है। अंग्रेजों के समय में ये देश की ग्रीष्मकालीन राजधानी हुआ करती थी। शिमला की खूबसूरत वादियां विदेशी पर्यटक भी घूमने आते हैं। शिमला में कई घूमने की जगह हैं, जिनमें से ऐतिहासिक मालरोड, रिज, क्राइस्ट चर्च, एडवांस्ड स्टडी, गेयटी थियेटर, प्रसिद्ध जाखू हनुमान मंदिर, तारादेवी मंदिर,कालीबाड़ी मंदिरके अलावा कई अन्य स्थल हैं। शिमला को हिल्सक्वीन के नाम से भी जाना जाता है।


रोहतांग दर्रा

रोहतांग दर्रा हिमाचल प्रदेश राज्य में कुल्लू घाटी और लाहौल और स्पीति घाटियों के बीच 3,980 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह हिमालय की पीर पंजाल श्रेणी के पूर्वी भाग में मनाली से 51 किमी दूर है। यह पूरे वर्ष हिमग्रस्त रहता है। हिमाचल को लद्दाख से जोड़ने वाला मनाली लेह राजमार्ग इस दर्रे से गुजरता है। ये दर्रा पूरा साल बर्फ से ढका रहने के कारण भी यहां काफी संख्या में सैलानी आते हैं और बर्फ का आनंद लेते हैं।

धर्मशाला।

धर्मशाला

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की शीतकालीन राजधानी है। यह कांगड़ा नगर से 16 किमी की दूरी पर स्थित है। धर्मशाला के मैक्लॉडगंज उपनगर में केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के मुख्यालय हैं, और इस कारण यह दलाई लामा का निवास स्थल तथा निर्वासित तिब्बती सरकार की राजधानी है। ऐसी मान्यता है की नगर का नाम धर्मशाला शब्द से उत्पन्न हुआ है। धर्मशाला में कुछ ऐसे मनोरम जगह है, जो हर किसी को अपनी ओर आकर्षित करते है।

हिडिम्बा देवी मंदिर।

हिडिम्बा देवी मंदिर

ये मंदिर मनाली में हिमाचल प्रदेश में स्थित है। यह एक प्राचीन गुफा-मन्दिर है जो हिडिम्बी देवी या हिरमा देवी को समर्पित है, जिसका वर्णन महाभारत में भीम की पत्नी के रूप में मिलता है। यह मंदिर मनाली शहर के पास के एक पहाड़ पर स्थित है। मनाली आने वाले सैलानी यहां जरूर आते है। देवदार वृक्षों से घिरे इस मंदिर की खूबसूरती बर्फबारी के बाद देखते ही बनती है।

खजियार।

खजियार

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में स्थित है। खजियार 'मिनी स्विट्जरलैंड' के नाम से भी प्रसिद्ध है। आपको बता दें कि दुनिया के 160 'मिनी स्विट्जरलैंड' में से एक खजियार भी है। खजियार की खूबसूरती को देखकर 'मिनी स्विट्जरलैंड' की उपाधि दी गई थी। खजियार समुद्र तल से 1,920 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इसके चारों तरफ देवदार के पेड़ हैं। यहां की सबसे आकर्षक चीज तैरता हुआ टापू है, जिसे देखना काफी अच्छा लगता है। सर्दी के मौसम में यहां पर हर साल काफी संख्या में सैलानी पहुंचते हैं।

पराशर।

पराशर

पराशर हिमाचल के मंडी जिले में स्थित में है। पराशर समुद्र तल से 2730 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। पराशर में झील, घने जंगल और धौलाधर के बर्फ पहने हुए पर्वतों के मनोरम दृश्य दिखाई देता है। "पराशर झील" जिसमें लगभग 300 मीटर की परिधि है। इसमें एक तैरता द्वीप है, इसका स्वच्छ पानी इस सुंदर स्थान को ओर आकर्षित करता है। इस जगह हर मौसम में पर्यटकों का तांता लगा रहता है।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story