Top

मकान मालिक ने घर में आने से रोका, 2 दिन पति और बच्चे के साथ टैक्सी में रही संक्रमित महिला

संक्रमित महिला को मकान मालिक ने घर में नहीं आने दिया जिसके बाद महिला और उसके परिवार को दो दिन तक टैक्सी में रहना पड़ा।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkAshiki PatelPublished By Ashiki Patel

Published on 11 May 2021 8:40 AM GMT

Corona positive woman forced to live in Taxi
X

प्रतीकात्मक तस्वीर 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शिमला: देश में इन दिनों कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है। ऐसे में कुछ लोग अंजान लोगों की मदद के लिए जी जान से लगे हुए हैं वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं अपने जाननेवालों से भी मुंह मोड़ ले रहे हैं। ऐसा एक मामला सामने आया है हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के मंडी जिले से। यहां कोरोना वायरस से संक्रमित (Corona Positive) महिला को उसके पति और दो साल के बच्चे के साथ 2 दिनों तक एक टैक्सी में रहने के लिए मजबूर होना पड़ा, क्योंकि उसके मकान मालिक ने परिवार को किराए के घर में घुसने से मना कर दिया था।

मंडी के करसोग में टैक्सी चालक (Taxi Driver) परसराम दो दिन पहले पत्नी को चेकअप के लिए शिमला ले गया था, जहां जांच के दौरान पत्नी कोरोना पॉजिटिव पाई गई। महिला ज्यादा गंभीर नहीं थी, उसकी हालत ठीक थी, इसलिए डॉक्टरों ने परिवार को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी। चालक परसराम पत्नी और 2 साल के बेटे के साथ घर आ गया। बताया जा रहा हैं कि यह परिवार करसोग में एक किराये के मकान पर रहता है। परसराम ने मकान मालिक को पूरे मामले की जानकारी दी, लेकिन मकान मालिक ने कोरोना के खतरे को देखते हुए परिवार को घर में आने से मना कर दिया। साथ ही परसराम को कहीं और ठहरने की सलाह दी। परसराम कोरोना पॉजिटिव पत्नी और 2 साल के बेटे के साथ दो दिनों से टैक्सी में ही रहा।


डीएसपी की मदद से माकन मालिक ने दी अनुमति

दो दिनों तक टैक्सी में रहने के बाद परसराम को कहीं से डीएसपी गीतांजलि ठाकुर का नंबर मिला। परसराम ने डीएसपी गीतांजलि ठाकुर से मदद की गुहार लगाई। डीएसपी बिना देर किए पुलिस टीम के साथ पहुंची और मकान मालिक से बात करके घर में रहने की अनुमति दिलाई। इतना ही नहीं उन्होंने परसराम के परिवार के लिए राशन की भी पूरी व्यवस्था की।

Ashiki

Ashiki

Next Story