Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

RBI का एक्शन: इस बैंक पर लगाया 40 लाख का जुर्माना, जानें क्या होगा असर

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक पर 40 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

Newstrack

NewstrackNewstrack Network NewstrackShreyaPublished By Shreya

Published on 28 April 2021 7:55 AM GMT

RBI का एक्शन: इस बैंक पर लगाया 40 लाख का जुर्माना, जानें क्या होगा असर
X

भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए शिमला स्थित हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक (Himachal Pradesh Rajya Sehkari Bank) पर 40 लाख रुपये का जुर्माना (Penalty) लगाया है। आरबीआई ने बैंक पर ये कार्रवाई नाबार्ड (NABARD) द्वारा जारी कुछ नियामकीय दिशानिर्देशों के उल्लंघन को लेकर की है।

केंद्रीय बैंक की ओर से मंगलवार को कहा गया है कि नाबार्ड द्वारा 'निगरानी और रिपोर्टिंग प्रणाली पर धोखाधड़ी दिशानिर्देश की समीक्षा' में शामिल नियामकीय निर्देशों के उल्लंघन को लेकर यह जुर्माना लगाया गया है। इस संबंध में राज्य सहकारी बैंक को नोटिस भी जारी किया गया था। बैंक के जवाब पर विचार विमर्श करने के बाद RBI ने ये जुर्माना लगाया है।

पैसे गिनता आदमी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

क्या ग्राहकों के पैसों पर पड़ेगा असर?

वहीं, बैंक पर जुर्माना लगाए जाने के बाद बैंक ग्राहकों के मन में सवाल है कि क्या इस कार्रवाई से उनके पैसों पर असर पड़ेगा। तो ऐसा नहीं है। अगर इस बैंक में आपके पैसे हैं तो आपको घबराने की जरूरत नही है, उन पर किसी भी तरह का असर नहीं होगा। आरबीआई के इस एक्शन से बैंक के ग्राहकों को ट्रांजेक्शन करने में कोई मुश्किल नहीं आएगी। आप अपना काम पहले की ही तरह कर सकेंगे।

बिहार के सहकारी बैंक पर भी लिया था एक्शन

आपको बता दें कि इससे कुछ समय पहले भी भारतीय रिजर्व बैंक ने बिहार के एक सहकारी बैंक पर कार्रवाई करते हुए पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया था। जो कि नोटबंदी के दौरान KYC पर जारी निर्देशों और चलन से हटाये गये रुपये को बदलने से जुड़े दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया था।

Shreya

Shreya

Next Story