Top

आतंकी के बेटे ने लगाया दोस्त पर बाप की हत्या का आरोप

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 April 2017 11:46 AM GMT

आतंकी के बेटे ने लगाया दोस्त पर बाप की हत्या का आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

श्रीनगर : बांदीपोरा जिले में आतंकी (पूर्व इख्वान कमांडर) अब्दुल राशिद पार्रे उर्फ बिल्ला की हत्या उसके घर में हुई थी। इसके बाद बेटे का आरोप है, कि उसके दोस्त ने धोखा दिया और उसके पिता की हत्या कर दी।

ये भी देखें :राजनीति का Mega Show, पैदल मार्च से लेकर हवाई यात्रा तक का प्रचार तंत्र

फयाज अहमद पार्रे के मुताबिक दो युवक जो हमारे पड़ोस में रहते हैं, हमारे घर पर आए और हमसे घर के दरवाजे खोलने के लिए कहा। मेरे पिता ने कहा कि वे हमारे पड़ोसी हैं और हमसे गेट खोलने के लिए कहा। उनके साथ दो और युवक भी थे, जो वहां से नहीं थे। उनके चेहरे ढ़के हुए थे और उनके पास बंदूकें थीं।

फयाज ने बताया मेरे पिता गेट पर थे और मेरा बच्चा उनकी गोद में था। वे मेरे पिता को यह कहते हुए अंदर ले गए कि उन्हें कुछ बात करनी है। मेरे पिता ने उनसे कहा कि वह जानते हैं कि वह वहां उनकी हत्या करने के लिए आए हैं और उन पर गोली चला सकते हैं। इस पर उन्होंने कहा कि वह बात करने आए हैं, मारने नहीं। वे बैठे, पानी पिया और उसके बाद अंदर गए, कमरा बंद किया और गोली मार दी। मुझे दुःख इस बात का है कि धोखाधड़ी मेरे करीबी दोस्त ने की।

फयाज ने कहा कि हमें पता था कि पाकिस्तानी किसी दिन उनकी हत्या कर देंगे लेकिन मैने कभी नहीं सोचा था कि मेरा दोस्त उनकी हत्या कर देगा। आतंकवाद निरोधक बल के कमांडर पार्रे की 16 अप्रैल की रात को उनके घर पर ही आतंकियों ने हत्या कर दी थी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story