Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

दिल्ली में फायरिंग: एनकाउंटर में गैंगस्टर कुलदीप फज्जा ढेर, हो गया था फरार

आपको बता दें, फज्जा पिछले दो दिन से रोहिणी सेक्टर-14 के तुलसी अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर डी-9 में दुबक कर रह रहा था। उसके साथ ही उसके दो साथी योगेंद्र और भूपेंद्र भी मौजूद थे, जो उसकी मदद कर रहे थे। दिल्ली पुलिस ने इन दोनों को मौके से गिरफ्तार किया है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 28 March 2021 3:21 AM GMT

दिल्ली में फायरिंग: एनकाउंटर में गैंगस्टर कुलदीप फज्जा ढेर, हो गया था फरार
X
दिल्ली में फायरिंग: एनकाउंटर में गैंगस्टर कुलदीप फज्जा ढेर, हो गया था फरार (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली से बड़ी खबर आ रही है। जहां दिल्ली पुलिस ने कुख्यात अपराधी कुलदीप फज्जा को एनकाउंटर में मौत के घाट उतार दिया है। दिल्ली की स्पेशल सेल ने रोहिणी में कुलदीप फज्जा और उसके साथियों को स्पॉट किया था।

ये भी पढ़ें:दिल्ली पुलिस ने कुख्यात अपराधी कुलदीप फज्जा को एनकाउंटर में मार गिराया

जब पुलिस टीम ने फज्जा को रोका तो उसने पुलिस पर गोली चला दी, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी। एनकाउंटर के समय दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग हुई। उसी समय दिल्ली पुलिस स्पेशल के अफसर बाल-बाल बच गए। वहीं पुलिस के कुछ जवानों को बुलेटप्रूफ जैकेट में गोली लगी।

आपको बता दें, फज्जा पिछले दो दिन से रोहिणी सेक्टर-14 के तुलसी अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर डी-9 में दुबक कर रह रहा था। उसके साथ ही उसके दो साथी योगेंद्र और भूपेंद्र भी मौजूद थे, जो उसकी मदद कर रहे थे। दिल्ली पुलिस ने इन दोनों को मौके से गिरफ्तार किया है।

गोलीबारी का फायदा उठाकर बदमाश कुलदीप को वहां से लेकर भाग निकले थे

आपको बता दें, कि कुछ दिनों पहले ही दिल्ली पुलिस की थर्ड बटालियन की टीम कुलदीप को जेल से जीटीबी अस्पताल लेकर आई थी। जहां उसका मेडिकल होना था। तभी वहां एक स्कोर्पियो कार और बाइक पर सवार होकर आधा दर्जन के करीब बदमाश पहुंचे थे। बदमाशों ने पुलिस बटालियन के इंचार्ज पर मिर्ची पाउडर फेंक दिया था। जिस वजह से पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते उससे पहले ठीक उसी वक्त बदमाशों ने कुलदीप को छुड़ाने के लिए पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर दी और गोलीबारी का फायदा उठाकर बदमाश कुलदीप को वहां से लेकर भाग निकले थे।

ये भी पढ़ें:विधानसभा चुनाव: बंगाल में पहले चरण की वोटिंग के दौरान हुई हिंसा के मामले में 10 गिरफ्तार

पुलिस की जवाबी फायरिंग के दौरान कुलदीप को छुड़ाने आए बदमाशों में एक पुलिस की गोली का शिकार हुआ, जिस वजह से उसकी मौत भी हो गयी। कुलदीप, कुख्यात बदमाश जितेंद्र गोगी गैंग का सदस्य था। उस पर हत्या जैसे 70 से ज्यादा केस दर्ज थे। वो दिल्ली और हरियाणा से वांटेड था। पुलिस ने उस पर 2 लाख का इनाम रखा था। पुलिस ने 2020 में उसे गिरफ्तार किया था।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story