Top

अवैध संबंधों का हुआ था खुलासा, शख्स ने प्रेमिका समेत 5 की ली थी जान

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 May 2016 12:09 AM GMT

अवैध संबंधों का हुआ था खुलासा, शख्स ने प्रेमिका समेत 5 की ली थी जान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भिंडः यहां के वीरेंद्र नगर में पांच हत्याओं का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। हत्या के आरोपी को पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस के अनुसार मृतका रीना के साथ आरोपी के अवैध संबंध थे। घटना वाली रात दोनों को रीना के एक रिश्तेदार ने आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। जिसके बाद उसने महिला और बच्चों की हत्या कर दी थी।

वारदात में पांच की गई थी जान

-ये घटना बीते शुक्रवार की है।

-इसमें रीना शुक्ला, बेटी छवि, जेठ की बेटी महिमा की हत्या हुई थी।

-रीना के भाई की बेटी अंबिका और ममेरे ससुर के बेटे गोलू की भी जान ली गई थी।

कॉल डिटेल से हुआ खुलासा

-पुलिस ने रीना की कॉल डिटेल निकलवाई थी।

-आरोपी नीतेश उर्फ अंकुर से 2 महीने में 200 से ज्यादा बार बात हुई थी।

-अंकुर के मुताबिक गोलू ने उसे और रीना को देख लिया था।

-पहले अंकुर की हत्या की, शोर सुनकर बाकी बच्चे आए तो उन्हें भी मार डाला।

-रीना ने बच्चों को मारने का विरोध किया, इस पर उसकी भी हत्या कर दी।

वारदात को डकैती का दिया रंग

पुलिस के अनुसार हत्याएं करने के बाद अंकुर ने इसे डकैती का रूप दिया। उसने कपड़े और सामान बिखेर दिए। घर से बाहर जाकर बड़े गेट पर बाहर से ताला लगा दिया। उसके पास से वारदात में इस्तेमाल चाकू और मोबाइल अभी तक बरामद नहीं किए जा सके हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story