Top

नवरात्रि में भी सुरक्षित नहीं यहां नारी, इज्जत की खातिर किशोरी तीसरी मंजिल से कूदी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 19 Oct 2018 9:22 AM GMT

नवरात्रि में भी सुरक्षित नहीं यहां नारी, इज्जत की खातिर किशोरी तीसरी मंजिल से कूदी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखीसराय : शारदीय नवरात्र के मौके पर नौ दिनों तक मां दुर्गा की आराधना के बाद लोग शुक्रवार को बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक 'रावण वध' करने की तैयारी में जुटे हैं लेकिन बिहार के लखीसराय में एक किशोरी को अपनी इज्जत बचाने के लिए तीसरी मंजिल से छलांग लगानी पड़ी। इस घटना में वह बिजली तार की चपेट में आ गई, जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। इस मामले में पुलिस ने हालांकि एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी देखें : Modi in Shirdi : संप्रग सरकार ने गरीबों के लिए पर्याप्त घर नहीं बनाए

पुलिस के अनुसार, लखीसराय के सदर थाना क्षेत्र में कपड़े की दुकान में सेल्स गर्ल का काम करने वाली एक लड़की ने अपनी सहेली को गुरुवार रात क़े क़े एस कॉलेज के पास एक मकान में बुलाया। मकान में पहले से ही दो-तीन मनचले युवक शराब के नशे में धुत्त थे। इन मनचलों ने पहले उस पीड़िता (जिसे बुलाया गया था) को जबरदस्ती शराब पिलाई और फिर दुष्कर्म करने की कोशिश की।

ये भी देखें :आजम खां को बदनाम करने की साजिश रच रही भाजपा : अखिलेश

इन मनचलों से बचने के लिए पीड़ित किशोरी ने इमारत की तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। छलांग लगाने के बाद किशोरी 11,000 क्षमता वाले बिजली के तार में उलझ गई, जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। घायल अवस्था में उसे अस्पतालल में भर्ती कराया गया है। घायल पीड़िता एक स्थानीय निजी स्कूल में नौवीं की छात्रा है।

लखीसराय के पुलिस अधीक्षक क़े क़े शर्मा ने शुक्रार को बताया, "पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही है। इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया गया है और पीड़िता को घर में बुलाने वाली किशोरी और दो अन्य लड़कों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।"

घटनास्थल से शराब की बोतलें भी जब्त की गई है। उल्लेखनीय है कि बिहार में शराब पर प्रतिबंध है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story