×

PNB घोटाला: फरार नीरव मोदी ने भारत आने के लिए रखी ये शर्त

aman

amanBy aman

Published on 21 Feb 2018 7:51 AM GMT

PNB घोटाला: फरार नीरव मोदी ने भारत आने के लिए रखी ये शर्त
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: देश की शीर्ष जांच एजेंसियों के स्कैनर पर आ चुके खरबपति नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने कहा है, कि 'नीरव सिर्फ एक शर्त पर भारत आएगा यदि 11 हजार 400 करोड़ की धोखाधड़ी की जांच स्वच्छ हो।' वकील का कहना है कि उसे जांच पर संदेह है। गलत तरीके से उसे गिरफ्तार किया जा सकता है।

नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने उसके बारे में और कोई जानकारी देने से स्पष्ट तौर पर इंकार किया। वकील ने कहा, कि 'मामले का मीडिया ट्रायल शुरू हो चुका है। नीरव मोदी भारत में नहीं है।'

सीबीआई ने गत दिवस पीएनबी के करोड़ों के धोखाधड़ी मामले में पहली हाई प्रोफाइल गिरफ्तारी की थी जिसमें नीरव की फायरस्टार डायमंड के प्रेसीडेंट (वित्त) विपुल अंबानी को गिरफ्तार किया गया था। विपुल अंबानी रिलायंस इंडस्ट्री के संस्थापक स्व. धीरूभाई अंबानी का भतीजा है और मुकेश व अनिल अंबानी का रिश्तेदार है। सीबीआई ने हालांकि अभी इस बारे में कुछ नहीं कहा है कि इस घोटाले से अंबानी बंधुओं और उनकी फर्मों का कोई लेना-देना है या नहीं है।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story