India

आज-कल ऑनलाइन धोखा-धड़ी करना आम हो गया है। बहुत से लोग सारी जानकारी निकालकर किसी के भी अकाउंट से पैसे निकाल लेते हैं। वहीं इस प्लेटफॉर्म का दुरोपयोग कर साइबर हैकर्स लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। वहीं, देश में ऑनलाइन धोखाधड़ी की घटनाओं में भी बढ़ोतरी हुई हैं।

डकैतों का इतिहास बहुत पुराना रहा है । यहां की भौगोलिक स्थिति अपराधियो के लिए काफी अनूकूल है। प्रारम्भ से ही आज भी यह क्षेत्र जंगल एवं पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण डकैतों की शरणस्थली रहा है। दस्यु समस्या होने के कारण यहां का विकास काफी प्रभावित हुआ। बता दें कि बुन्देलखण्ड का चित्रकूट जिला डकैतों के गढ़ के रूप में जाना जाता रहा है।

पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा और लश्कर-ए-तोएबा ने दिल्ली स्थित (रिसर्च एंड एनालिसिस विंग) RAW और भारतीय सेना के मुख्यालय में हमला करने की योजना बनाई है। JuD और LeT आतंकी समूहों का नेतृत्व मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद कर रहा है।

कैबिनेट के फैसलों का ऐलान करते हुए टेलिकॉम मिनिस्‍टर रविशंकर प्रसाद ने बताया कि अतीत में बीएसएनएल के साथ नाइंसाफी हुई है। हम बीएसएनएल और एमटीएनएल के विलय की योजना पर काम कर रहे हैं। रविशंकर प्रसाद के मुताबिक बीएसएनएल के लिए आकर्षक वीआरएस पैकेज लेकर आया जाएगा।

बताते चलें कि बोर्ड को संबोधित करके लिखी गई इन चिट्ठियों में शिकायतकर्ताओं ने जांच की मांग की और तुरंत कार्रवाई करने की अपील की, व्हिसलब्लोअर्स ने लिखा कि वो अपने आरोपों को साबित करने के लिए ईमेल और वॉइस रिकॉर्डिंग भी दे सकते हैं। वहीं इंफ़ोसिस के चेरयमैन नंदन नीले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुई कैबिनेट की बैठक में केंद्र सरकार ने बड़े फैसले लिए हैं। केंद्रीय कैबिनेट मीटिंग में दिल्ली की अवैध कॉलोनियों को नियमित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। मोदी सरकार के इस फैसले का 40 लाख लोगों को मालिकाना हक मिल जाएगा।

ह सुनवाई 3 लाख कश्मीरी पंडितों के खिलाफ एक पूर्वाग्रह थी, जो 1990 में कश्मीर से जातीय रूप से साफ हो गए थे। उन्होंने साथ ही कहा कि यह सुनवाई उन 700 से अधिक कश्मीरी पंडितों के खिलाफ पूर्वाग्रह से ग्रसित थी, जो 1990 में कश्मीर में यहां काम करते थे।

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में 69 बम मिलने से हड़कंप मच गया है। कोल्हापुर पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शहर से करीब 7 किलोमीटर दूर गढ़शंगी गांव में दो लोगों को 69 देसी बम के साथ गिरफ्तार किया है।

बुधवार को हुई कैबिनेट बैठक में मोदी सरकार के कई अहम फैसलों को मंजूरी देने की संभवाना है। इसमें सबसे बड़ा फैसला शॉपिंग मॉल और रिटेल शॉप में पेट्रोल-डीजल की बिक्री को लेकर हो सकता है। इसके साथ ही प्राइवेट पेट्रोल पंप को लेकर भी बड़ा ऐलान हो सकता है।