Top

महाराष्ट्र के इस आश्रम में होता है मासूम नाबालिगों के साथ रेप, ऐसे हुआ खुलासा

महाराष्ट्र के बुलढाणा में आश्रम स्कूल का एक शर्मनाक सच सामने आ गया है।स्कूल में कई बच्चियों के साथ यौन शोषण होने का मामला सामने आया है।इसका खुलासा तब हुआ जब 13 साल की एक मासूम बच्ची प्रेग्नेंट हुई।छात्रा ने बताया की वहाँ के कर्मचारी लड़कियों के साथ ज़बरन रेप करते थे।पुलिस ने इस मामले में आश्रम के 11 लोगों को गिरफ्तार किया है. वहीं महाराष्ट्र के डीजीपी ने इस मामले में स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम गठित कर जांच के आदेश दिए हैं।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 4 Nov 2016 6:40 AM GMT

महाराष्ट्र के इस आश्रम में होता है मासूम नाबालिगों के साथ रेप, ऐसे हुआ खुलासा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

untitled-1

मुंबई : महाराष्ट्र के बुलढाणा में आश्रम के स्कूल का एक शर्मनाक सच सामने आ गया है।स्कूल में कई बच्चियों के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया है।इसका खुलासा तब हुआ जब 13 साल की एक मासूम बच्ची प्रेग्नेंट हुई।छात्रा ने बताया की वहाँ के कर्मचारी लड़कियों के साथ ज़बरन रेप करते थे।पुलिस ने इस मामले में आश्रम के 11 लोगों को गिरफ्तार किया है।वहीं महाराष्ट्र के डीजीपी ने इस मामले में स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम गठित कर जांच के आदेश दिए हैं।

कैसे हुआ खुलासा ?

खामगांव स्थित एक आश्रम स्कूल में कई बच्चियों के यौन शोषण के मामले का खुलासा तब हुआ जब आश्रम स्कूल में रह रही एक 13 साल की लड़की प्रेग्नेंट हुई।दिवाली की छुट्टी पर अपने घर गई थी।एक दिन अचानक लड़की के पेट में दर्द हुआ। परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए, जहां डॉक्टरों ने परिजनों को लड़की के प्रेग्नेंट होने की जानकारी दी।ये सुन लड़की के परिजनों के पैर तले ,मानो ज़मीन खिसक गई हो।घरवालों द्वारा पूछे जाने पर पीड़ित लड़की ने सारी बात बताई।पीड़ित लड़की ने बताया कि आश्रम में रह रही कई लड़कियों के साथ रेप किया गया है। पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने फौरन आश्रम के 7 कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं गुरुवार रात 4 और लोगों को गांव से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में संस्था के अध्यक्ष, प्रधानाध्यापक और कुछ कर्मचारी शामिल हैं। वहीं बच्चियों के साथ यौन शोषण का मुख्य आरोपी कर्मचारी इत्तू सिंह पवार अभी फरार है। पुलिस आरोपी की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है।

स्कूल मैनेजमेंट ने भी नहीं सुनी छात्राओं की शिकायत

लड़कियों के साथ हो रहे दुष्कर्म की जानकारी उन्होंने कई बार स्कूल प्रबंधन और महिला शिक्षकों को दी थी मगर किसी ने इसके खिलाफ आवाज़ नहीं उठाई।हम आपको बता दे की महाराष्ट्र का ये आश्रम लड़कियों के लिए ही बनाया गया था। डीजीपी की जांच के बाद कई नाम सामने आये जिनके खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश जारी कर दिया है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story