Top

झारखंड में उपचुनाव, मधुपुर सीट को लेकर JMM-BJP आमने-सामने

झारखंड के मधुपुर सीट पर 17 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। इस सीट पर सत्ताधारी झामुमो की ओर से पूर्व मंत्री स्वर्गीय हाजी...

Roshni

RoshniBy Roshni

Published on 31 March 2021 6:54 AM GMT

17 अप्रैल को झारखंड में उपचुनाव, मधुपुर सीट को लेकर झामुमो-भाजपा आमने-सामने
X

jharkhand elections (PC: social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रांची: झारखंड के मधुपुर सीट पर 17 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। इस सीट पर सत्ताधारी झामुमो की ओर से पूर्व मंत्री स्वर्गीय हाजी हुसैन अंसारी के सुपुत्र हफीज़ुल हसन मैदान में हैं। भाजपा की ओर से पिछले चुनाव में तीसरे नंबर पर रहने वाले आजसू प्रत्याशी गंगा नारायण सिंह मैदान में किस्मत आज़मा रहे हैं। नामांकन के आखिरी दिन 30 मार्च को पांच प्रत्याशियों ने नॉमिनेशन किया। मधुपुर सीट से कुल 08 प्रत्याशी मैदान में हैं। इसमें 2009 के भाजपा प्रत्याशी रहे अभिषेक झा भी मैदान में दो-दो हाथ कर रहे हैं।

बॉरो प्लेयर के सहारे भाजपा

2019 के विधानसभा उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी रहे राज पालीवार को पार्टी ने इसबार टिकट नहीं दिया है। पिछले चुनाव में वे दूसरे नंबर पर थे। बीजेपी ने सहयोगी पार्टी आजसू के प्रत्याशी गंगा नारायण सिंह को भाजपा में शामिल कराकर उन्हे मैदान में उतारा है। पिछले चुनाव में वे तीसरे नंबर पर थे। पार्टी को भरोसा है कि, आजसू और भाजपा के वोट एक जगह पर पड़ने से उनकी जीत सुनिश्चित है। लिहाज़ा, पार्टी ने राज पालीवार को दरकिनार करना ही बेहतर समझा है।


jharkhand elections (PC: social media)


राज पालीवार की चुप्पी

भाजपा की ओर से गंगा नारायण सिंह के नामांकन के दौरान राज पालीवार मौजूद नहीं रहे। उनकी ग़ैर मौजूदगी के कई मायने निकाले जा रहे हैं। हालांकि, राज पालीवार ने अबतक खुलकर पार्टी के खिलाफ कुछ नहीं बोला है लेकिन वे पार्टी के कार्यक्रमों से दूरी बनाए हुए हैं। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि, आजसू राज पालीवार को मैदान में उतार सकती है हालांकि, इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी है। बहरहाल, राज पालीवार मीडिया से भी दूरी बनाए हुए हैं। सूत्रों की मानें तो राज पालीवार हरीद्वार जाने वाले हैं ताकि, चुनाव के दौरान वे मधुपुर में मौजूद नहीं रहें।

मंत्री हुसैन अंसारी की मृत्यु से सीट है खाली

झामुमो के मंत्री रहे हाजी हुसैन अंसारी की मृत्यू से मधुपुर सीट खाली है। पिछले साल कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद उनकी मृत्यू हो गई थी। उनकी जगह पर उनके सुपुत्र हफीजुल हसन को कल्याण मंत्री पद की शपथ दिलाई गई और उन्हे मधुपुर से मैदान में उतारा गया। झामुमो को भरोसा है कि, क्षेत्र की जनता झामुमो प्रत्याशी को विजयी बनाएगी। नामांकन के दौरान यूपीए के सभी घटक दलों के लोग मौजूद रहे। इससे साफ है कि, यूपीए का पूरा समर्थन हफीजुल हसन को प्राप्त है।

रिपोर्ट- शाहनवाज़

Roshni

Roshni

Next Story