डायरेक्‍टर अनुराग कश्यप बोले-काशी का न कोई कल्चर है न पैर रखने को जमीन

Published by Newstrack Published: March 28, 2016 | 9:07 pm
Modified: August 10, 2016 | 4:04 am

वाराणसी: बॉलीवुड के मशहूर फिल्म डायरेक्‍टर अनुराग कश्यप सोमवार को काशी में थे। इस दौरान मीडिया से बात करते हुए अनुराग ने दुनिया के सबसे पुराने शहर काशी के ‘कल्चर’ को नकार दिया। उनका कहना है कि ‘इस शहर में न कोई कल्चर है न पैर रखने को जमीन’।

अनुराग कश्यप भाई अनुभव के साथ बीएचयू के विमेन कॉलेज के प्लेटिनम जुबली वर्ष पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। इस दौरान वे मीडिया से बातें कर रहे थे।

ये भी पढ़ें… अनुराग कश्‍यप बोले- कन्‍हैया में कुछ भी नहीं, उसे मीडिया ने हाइप दिया

काशी में नहीं दिखता कल्चर
भले ही पूरी दुनिया के लोग काशी की संस्कृति को देखने आते हों और बॉलीवुड से हॉलीवुड तक के डारेक्‍टर यहां फिल्म बनाने की ख्वाहिश रखते रहे हों। लेकिन अनुराग को तो काशी में ऐसा कुछ भी नहीं दिखता है। मीडिया के सवालों पर उखड़ते  हुए कहा, ‘इस शहर में न कोई कल्चर है न पैर रखने को जमीन। उसके बारे में क्या खाक फिल्म सिटी के बाबत सोचा जा सकता है’।

ये भी पढ़ें…मनोज तिवारी ने कहा- जो देश से प्यार करेगा, वह भारत माता की जय बोलेगा

‘मैं पढ़ा लिखा नहीं हूं’
मीडिया के सवालों से झल्लाए अनुराग ने यहां तक कह दिया कि वे बीएचयू और जेएनयू के बारे में कुछ नहीं जानते। कहा, ‘मैं पढ़ा लिखा नहीं हूं’।

यह भी पढ़ें… काशी के कल्चर वाले बयान पर बोले बुद्धिजीवी-अज्ञानी और मूर्ख हैं अनुराग