×

BCCI ने किया इनकार, संकट में पड़ी पाकिस्तान की मेजबानी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के इनकार के बाद पाकिस्तान के लिए एक और मुश्किल खड़ी हो गई है। इस साल अप्रैल में पाकिस्तान में एशिया इमर्जिंग नेशन्स कप होना था। अब जबकि भारतीय बोर्ड ने इस टूर्नमेंट के लिए अपनी टीम न भेजने का फैसला किया है ऐसे में पाकिस्तान की मेजबानी भी संकट में आ गई है

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 2 March 2018 3:05 AM GMT

BCCI ने किया इनकार, संकट में पड़ी पाकिस्तान की मेजबानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कराची: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के इनकार के बाद पाकिस्तान के लिए एक और मुश्किल खड़ी हो गई है। इस साल अप्रैल में पाकिस्तान में एशिया इमर्जिंग नेशन्स कप होना था। अब जबकि भारतीय बोर्ड ने इस टूर्नमेंट के लिए अपनी टीम न भेजने का फैसला किया है ऐसे में पाकिस्तान की मेजबानी भी संकट में आ गई है

पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड के अधिकारी ने बताया अब जबकि भारत अपनी टीम पाकिस्तान नहीं भेज रहा है, तो एशिया इमर्जिंग नेशन्स कप को श्री लंका या बांग्लादेश शिफ्ट किया जा सकता है।

उन्होंने कहा, 'हम इस साल अप्रैल में टूर्नमेंट करवाने को यह सोचकर राजी हुए थे कि सभी देश इसमें भाग लेंगे।' पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन नजम सेठी ने दुबई में मीडिया को बताया कि एशिया क्रिकेट काउंसिल के अध्यक्ष होने के नाते वह जल्दी ही कोलंबो में एसीसी की बैठक बुलाएंगे। इस बैठक में एशिया इमर्जिंग कप और सितंबर में भारत में होने वाले एशिया कप पर अंतिम फैसला किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि भारत में होने वाले एशिया कप में पाकिस्तान की भागीदारी पर कुछ शर्तें होंगी। 2008 में मुंबई पर हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत लगातार पाकिस्तान में द्विपक्षीय सीरीज खेलने से इनकार करता रहा है। आईसीसी और एसीसी के मंचों पर भी भारत पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रवैया अपनाए रखता है।

सेठी ने यह भी कहा कि कोलकाता में होने वाली आईसीसी बोर्ड मीटिंग में उनका जाना इस बात पर तय करता है कि क्या आईसीसी उनके लिए वीजा का इंतजाम कर सकता है।

उन्होंने कहा, 'भारत जाने में मुझे कोई दिलचस्पी नहीं है। अगर भारत मुझे वीजा देता है तो मैं जाऊंगा अगर नहीं देता है तो आईसीसी को इसके बारे में सोचना चाहिए।'

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story