किसी ने लाइटर से जलाई कैंडिल तो कहीं यूं केक खाने के लिए मची होड़

Published by Newstrack Published: January 15, 2016 | 6:22 pm
Modified: August 10, 2016 | 4:03 am

मेरठ/मुज़फ्फरनगर. पूरे प्रदेश में बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन पार्टी कार्यकर्ताओं ने बड़े धूमधाम से मनाया, लेकिन मुजफ्फनगर और हरदोई में कुछ अलग ही नजारा देखने को मिला। हरदोई में पूर्व मंत्री अब्दुल मन्नान ने माचिस की जगह अपनी जेब से सिगरेट लाइटर निकालकर मोमबत्ती जलाई। वहीं, मुजफ्फनगर में बहनजी के केक को खाने की ऐसी होड़ मची कि हजारों की भीड़ मंच पर टूट पड़ी। फिर तो जो हुआ वो फोटोज बयां कर रही हैं।

[su_slider source=”media: 4197,4196,4198,4199,4195,4202,4200″ width=”620″ height=”440″ title=”no” pages=”no” mousewheel=”no”]

 

सांसद कादिर राणा और बसपा विधायक अनिल कुमार ने जैसे ही केक काटा छीना-झपटी होना शुरू हो गई। जिसके हाथ में जितना केक आया, उसने उतना उठा लिया। इसमें किसी की शर्ट तो किसी का हाथ से लेकर चेहरा तक केक में डूब गया। भीड़ देखकर ऐसा लग रहा था कि लोगों केक नहीं, कोई खजाना मिल गया हो। कुछ ही मिनटों में मायावती के जन्मदिन का केक मंच से उतरकर जमीन पर आ गया। बसपाई भी केक खाने के लिए एक-दूसरे से भिड़ गए। 60 किलो का केक मंच से ऐसे गायब हुआ, जैसे कुछ देर पहले वहां कुछ था ही नहीं।

जिला अध्यक्ष ने बताया जनता का प्यार

बसपा के जिला अध्यक्ष कमल गौतम ने केक की किरकरी को जनता का बहनजी के लिए प्यार बताया। उनके मुताबिक, हजारों की भीड़ में 60 किलो का केक भी कम पड़ता है। यही वजह है कि सब केक खाने के लिए उस पर टूट पड़े। मंच पर उनके साथ पूर्व बसपा सांसद कादिर राणा और राजपाल सैनी भी मौजूद थे।

 

 

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App