Top

शाहनवाज बोले-चुनाव से पहले आएगा यूपी में CM FACE, नीतीश के साथ गठजोड़ नहीं

भाजपा प्रवक्ता ने उत्तर प्रदेश चुनाव में भाजपा का सीएम फेस प्रोजेक्ट न करने के सवाल पर कहा कि नेता का नाम चुनाव की घोषणा होने तक सामने आ जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारा ध्यान उत्तर प्रदेश को सपा और बसपा से मुक्त कराने पर है।

zafar

zafarBy zafar

Published on 2 Dec 2016 7:55 AM GMT

शाहनवाज बोले-चुनाव से पहले आएगा यूपी में CM FACE, नीतीश के साथ गठजोड़ नहीं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि चुनाव से पहले यूपी में नेता का चयन कर लिया जाएगा। शाहनवाज ने जनता दल युनाइटेड के साथ किसी तरह के राजनीतिक गठजोड़ से इनकार किया है। उन्होंने यह भी कहा कि नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लोगों का विश्वास बढ़ा है। वह महाराजगंज की परिवर्तन सभा में शामिल होने के लिए गोरखपुर पहुंचे थे।

यूपी में आएगा चेहरा

-शाहनवाज हुसैन ने उत्तर प्रदेश चुनाव में भाजपा का सीएम फेस प्रोजेक्ट न करने के सवाल पर कहा कि नेता का नाम चुनाव की घोषणा होने तक सामने आ जाएगा।

-उन्होंने कहा कि नेता और कार्यकर्ता अपना काम कर रहे हैं। फिलहाल हमारा ध्यान उत्तर प्रदेश को सपा और बसपा से मुक्त कराने पर है।

-भाजपा प्रवक्ता ने इस बात से इनकार किया है कि भाजपा और जेडीयू के बीच किसी तरह का कोई राजनीतिक समीकरण बन रहा है।

-उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार देशहित में नोटबंदी पर हमारे साथ हैं और हम शराबबंदी पर उनके साथ।

विपक्षी परेशान

-भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि विपक्ष पहले कालाधन लाने को लेकर सवाल पूछता था, अब कालाधन निकल रहा है तो वे विरोध कर रहे हैं।

-शाहनवाज हुसैन ने कहा कि अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी और राहुल गांधी नोटबंदी पर मोदी की लोकप्रियता बढ़ने से परेशान हैं।

-शाहनवाज हुसैन ने नोटबंदी को विश्व का सबसे बड़ा अभियान करार दिया।

-नोटबंदी पर उन्होंने एक शे'र को बदलते हुए कहा- सदियों ने खता की थी, लमहों में छुटकारा मिल गया।

-शाहनवाज ने माना कि नोटबंदी के बाद वेतन और पेंशन का समय होने के कारण दिसंबर का पहला पखवारा चुनौती भरा है, लेकिन यह कठनाई दूर हो जाएगी।

-उन्होंने बताया कि सरकार कम समय में अधिक नोट छापने का प्रयास कर रही है और काम जारी है।

zafar

zafar

Next Story