Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

चुनाव में अहम बात राहुल या नरेंद्र नहीं हैं, गुजरात के लोग हैं

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 Dec 2017 11:00 AM GMT

चुनाव में अहम बात राहुल या नरेंद्र नहीं हैं, गुजरात के लोग हैं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अहमदाबाद : कांग्रेस के नव निर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी पर अपनी छवि बिगाड़ने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने कोई मेकओवर नहीं कराया है।

एक गुजराती समाचार चैनल को दिए गए अपने साक्षात्कार में राहुल गांधी ने यह भी कहा कि भाजपा उनसे नहीं गुजरात के लोगों की आवाज से भयभीत है।

ये भी देखें : राहुल का दावा : एकतरफा होगा चुनाव ,परिणाम चौंका देंगे, होगी BJP हैरान

राहुल गांधी ने कहा, "कोई मेकओवर नहीं किया, राहुल गांधी की सच्चाई को भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा विकृत किया जा रहा है। मैं सच बोलता हूं और सच सामने आ रहा है।"

गुजरात के चुनाव व चुनाव प्रचार के बारे में बात करने पर राहुल गांधी ने कहा कि चुनाव में वह या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अहम नहीं हैं, बल्कि गुजरात के लोग अहम हैं।

उन्होंने कहा, "मैं कौन हूं, मैंने बीते तीन महीनों में सिर्फ गुजरात के बारे में बात की है। चुनाव में अहम बात राहुल गांधी या नरेंद्र मोदी नहीं हैं, गुजरात के लोग हैं।"

उन्होंने कहा, "वे राहुल गांधी से भयभीत नहीं हैं, वे गुजरात के लोगों की आवाज से भयभीत हैं।"

ये भी देखें : गुजरात चुनाव : इस बार मोदी-राहुल ने जो किया वो पहले कभी नहीं हुआ

नेहरू-गांधी परिवार पर टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री के लिए कोई घृणा महसूस नहीं होती। उन्होंने कहा कि मोदी ने ही उनकी सबसे ज्यादा मदद की है।

राहुल गांधी ने कहा, "मोदी जी ने मेरी सबसे ज्यादा मदद की है.. मैं उनसे कैसे घृणा कर सकता हूं।"

नेहरू-गांधी परिवार पर की गई टिप्पणी पर जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा, "यदि आप देश के इतिहास व धर्म को देखें तो पाएंगे कि घृणा का जवाब प्रेम से दिया चाहिए। मेरे अंदर कोई घृणा या नाराजगी नहीं है।"

उन्होंने कहा, "यह हमारे परिवार के स्वभाव में है। शायद महात्मा गांधी ने हमारे परिवार को यही सिखाया था..।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story