×

काली बनी मायावती के पैरों नीचे आए PM मोदी, विवादित पोस्टर वायरल

By

Published on 2 Oct 2017 10:56 AM GMT

काली बनी मायावती के पैरों नीचे आए PM मोदी, विवादित पोस्टर वायरल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गोरखपुर: लगातार सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो और पोस्टर हर दिन एक नया विवाद खड़ा कर रहा है। एक ऐसा ही पोस्टर इन दिनों विवादों में चल रहा है। सोशल मीडिया पर एक पोस्टर लगाया गया है, जिसमें पोस्टर में काली माता को मायावती का चेहरा बना कर दर्शाया गया है और काली माता के हाथों में स्मृति ईरानी का कटा हुआ सिर दिखाया गया है।

साथ ही काली माता बनी मायावती को भगवान शंकर पर पैर रख कर चढ़ते दिखाया गया है। बगल में मोहन भागवत को खड़े दिखाया है। इस पोस्टर के जारी होने के बाद अब बीजेपी के कार्यकर्ताओं में काफी रोष है, इसको लेकर इन लोगों ने आज कोतवाली थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की अपील की है।

गोरखपुर के एक पार्षद ने कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कराया है और इस पर कड़ी कार्यवाही करने की अपील की है। गोरखपुर के एक बीजेपी पार्षद ने इस पूरे मामले पर नाराजगी दिखाते हुए कोतवाली थाने में तहरीर दी है। पार्षद की मानें तो कौड़ीराम के रहने वाले एक शिक्षक द्वारा शिक्षकों के व्हाट्सऐप ग्रुप पर एक पोस्ट लगाया गया, जिसमें काली माता को मायावती बना कर दिखाया गया है।

उनके एक हाथ में गड़सा, दूसरे हाथ में स्मृति इरानी का कटा हुआ सिर, तीसरे हाथ में त्रिशूल और चौथे हाथ में खोपड़ी, जिसमें स्मृति इरानी के कटे हुए सिर से रक्त निकल कर उसमें गिरता नजर आ रहा है। उसके बाद जब मां काली राक्षसों के नर संघार कर गुस्से से आगे बढ़ रही थी, तो उनके गुस्से को शांत करने के लिए भगवान शंकर जमीन पर उनके आगे लेट जाते हैं और मां काली उनके ऊपर चढ़ जाती हैं, तो उनका गुस्सा शांत होता है।

इसी रूप को काली के शक्ल में मायावती को बना कर भगवान शंकर को मोदी का चेहरा लगा उनके ऊपर मायावती को चढ़ते दिखाया गया है। इसके बगल में मायावती का हाथी और दूसरे तरफ आरएसएस के मोहन भागवत को खड़े दिखाया गया है।

लगातर सोशल मीडिया का उपयोग शहर और देश की फिजा को बिगड़ने का प्रयास होता रहा है, एक बार फिर सोशल मीडिया पर विवादित पोस्टर जारी कर विवाद खड़ा करने का प्रयास किया गया है। फिलहाल इस पोस्टर को लेकर बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज करने की अपील की गई, योगी के जिले में इस तरह के पोस्टर ने एक बात तो साबित कर दिया है, की ऐसे तत्वों को किसी का डर नहीं है।

Next Story