दाऊद ने रची थी दंगे कराने की साजिश, NIA की जांच में खुलासा

Published by Newstrack Published: May 6, 2016 | 11:07 am
Modified: August 10, 2016 | 3:59 am

नई दिल्लीः नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने दावा किया है कि इंटरनेशनल टेररिस्ट और डॉन दाऊद इब्राहिम ने देश में दंगों की साजिश रची थी। दाऊद दंगे भड़काकर पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार को अस्थिर करना चाहता था।

कैसे हुआ खुलासा?
-दाऊद गैंग के शार्प शूटर्स ने दो आरएसएस नेताओं की 2 नवंबर 2015 को सूरत में हत्या की थी।
-अरेस्‍ट शूटर्स ने बताया कि याकूब मेमन की फांसी का बदला लेने के लिए उन्होंने ऐसा किया।
-जांच में पता चला कि जावेद चिकना और जाहिद मियां ने दंगे कराने की बड़ी साजिश रची थी।

 

इस तरह कराने थे दंगे
-धर्मगुरुओं और धार्मिक स्थलों पर हमले की योजना तैयार की गई थी।
-बीजेपी-आरएसएस सदस्यों की हत्या के लिए नामों की लिस्ट भी तैयार की थी।

 

एनआईए क्या कदम उठा रही है?
-इंटरपोल से जावेद चिकना का पता लगाने और गिरफ्तारी के लिए कहा है।
-अमेरिका-पाकिस्तान समेत 6 देशों को म्यूचुअल लीगल असिस्टेंस ट्रीटी (एमएलएटी) भेजी है।

 

10 में से 7 आरोपी अरेस्‍ट
-एनआईए के मुताबिक इस मामले में 10 आरोपी हैं।
-इनमें से सात लोगों को अरेस्‍ट कर लिया गया है।
-अरेस्‍ट लोगों में जावेद चिकना का भाई आबिद पटेल भी है।
-सबूतों को पुख्ता कर बाद में दाऊद के खिलाफ चार्जशीट देगी जांच एजेंसी।