Top

मैंक्रो ने जीत के बाद कहा आइए फ्रांस को प्यार करें, PM मोदी ने दी बधाई

फ्रांस राष्ट्रपति चुनाव में इमानुएल मैक्रों ने रविवार को हुए अंतिम दौर के चुनाव में मैक्रों ने धुर दक्षिपंथी उम्मीदवार मरीन ले पेन को हराकर जीत हासिल की है।

sujeetkumar

sujeetkumarBy sujeetkumar

Published on 8 May 2017 6:56 AM GMT

मैंक्रो ने जीत के बाद कहा आइए फ्रांस को प्यार करें, PM मोदी ने दी बधाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पेरिस: फ्रांस राष्ट्रपति चुनाव में उदार मध्यमार्गी उम्मीदवार इमानुएल मैक्रों ने जीत दर्ज कर ली है। देश में रविवार को हुए अंतिम दौर के चुनाव में मैक्रों ने धुर दक्षिपंथी उम्मीदवार मरीन ले पेन को हराकर जीत हासिल की है। मैक्रों को 2.07 करोड़ वोट मिले हैं जबकि ले पेन को 1.06 करोड़ वोट ही मिल सके । भारत के समय के अनुसार तडके परिणाम की घोषणा हुई । फ्रांस के गृह मंत्रालय के अनुसार मैक्रों को कुल 66.06 फीसदी वोट मिले जबकि ले पेन 33.94 फीसदी वोट मिले।

पीएम ने इमानुएल मैक्रों को बधाई दी

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी मेक्रों को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "मैं भारत, फ्रांस संबंधों को मजबूत करने के लिए नवनिर्वाचित राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रों के साथ मिलकर काम करने के लिए आश्वस्त हूं।फ्रांस के राष्ट्रपति चुनाव में शानदार जीत के लिए इमानुएल मैक्रों को बधाई।"





अंतिम दौर के चुनाव में कुल मतदान

अंतिम दौर के चुनाव में कुल मतदान प्रतिशत लगभग 74 फीसदी रहा जो देश के लगभग 50 वर्षो का सबसे निम्नतम है। फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक, नतीजों के ऐलान के बाद मैक्रों जश्न मनाने सड़कों पर उतर आए वहीं मरीन ले पेन ने भी उन्हें बधाई दी।

देश की सेवा करने जा रहा हूं

मैक्रों ने जीत पर अपने समर्थकों का आभार जताते हुए कहा, "आइएं फ्रांस को प्यार करें। मैं इसी शाम से लेकर आगामी पांच वर्षो तक नम्रता, समर्पण और दृढ़ता से देश की सेवा करने जा रहा हूं।"

इससे पहले पेरिस के समयानुसार रात आठ बजे मतदान समाप्त होने के बाद मैक्रों ने अपनी विरोधी एवं नेशनल फ्रंट (एफएन) प्रमुख मरीन ले पेन के मुकाबले 65 फीसदी से अधिक वोट हासिल कर लिए थे।

ताकतों के खिलाफ लड़ूंगा

उन्होंने कहा, "यह बहुत ही सम्मान और जिम्मेदारी का काम है। मैं आपका तहे दिल से आभार व्यक्त करना चाहता हूं। " मैक्रों ने कहा, "मैं यूरोप और देश के नागरिकों के बीच संबंधों में नई जान फूंकने के लिए काम करूंगा। मेरा कर्तव्य लोगों के दिल से भय को दूर करना है। मैं देश को अलग करने वाली ताकतों के खिलाफ लड़ूंगा।"

sujeetkumar

sujeetkumar

Next Story