×

गोरखपुर उपचुनाव: सपा को निषाद-पीस पार्टी का समर्थन, कहा- 'फूल' मुरझाएगा

aman

amanBy aman

Published on 18 Feb 2018 7:43 AM GMT

गोरखपुर उपचुनाव: सपा को निषाद-पीस पार्टी का समर्थन, कहा- फूल मुरझाएगा
X
सपा को गोरखपुर उपचुनाव में निषाद और पीस पार्टी का समर्थन
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) ने गोरखपुर लोकसभा के अगले महीने वाले होने वाले उपचुनाव में बीजेपी खासकर सीएम योगी आदित्यनाथ को घेरने की तैयारी कर ली है। उपचुनाव में सपा पीस पार्टी और निषाद पार्टी के साथ गठबंधन कर उपचुनाव में उतर रही है। पार्टी ने प्रवीण कुमार निषाद को प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है। पार्टी ने गोरखपुर उपचुनाव में जीत का भरोसा जताया।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार (18 फरवरी) को गोरखपुर के लिए अपने प्रत्याशी के नाम की घोषणा की। अखिलेश की प्रेस कांफ्रेंस में पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ. अयूब और निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद भी मौजूद थे। सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद, संजय निषाद के पुत्र हैं।

फूलपुर में भी बीजेपी का फूल मुरझाएगा

इस दौरान अखिलेश ने कहा, कि 'फूलपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए गठबंधन या समर्थन के बारे में बाद में फैसला लिया जाएगा। निषाद पार्टी ने लोकसभा के आगामी चुनाव में भी सपा को समर्थन देने का ऐलान किया।' उन्होंने कहा, कि 'ये आगे भी जारी रहेगा। सपा और निषाद पार्टी संघर्ष से आगे आई है। अखिलेश ने कहा कि फूलपुर में भी बीजेपी का फूल मुरझायेगा।'

बीआरडी मामले पर सरकार ने झूठ बोला

सपा अध्यक्ष ने गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की हुई मौत पर सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, कि 'सरकार ने झूठी रिपोर्ट पेश कर गुनाहगारों को बचाया है।'

पीएम का एक और विश्वासपात्र पैसा लेकर भागा

पीएनबी के महाघोटाले यूपी के पूर्व सीएम ने कहा, '8 नवंबर 2016 को नोटबंदी के बाद इतनी बडी लेटर ऑफ़ अंडरस्टेंडिंग कैसे हो गई। बैंक में अधिकारी इस फ्रॉड में शामिल थे, तो सरकार के लोग भी इसमें थे। अब बीजेपी कह नहीं सकती कि उसके शासनकाल में कोई घोटाला नहीं हुआ। पीएम मोदी का एक और विश्वासपात्र नीरव मोदी बैंक में रखे गरीब जनता के 11 हजार करोड़ से ज्यादा लेकर भाग गया।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story