गोधरा कांड:14 साल बाद मुख्य आरोपी गिरफ्तार,रची थी ट्रेन जलाने की साजिश

Published by May 18, 2016 | 2:56 pm

फाइल फोटो

अहमदाबाद: गुजरात एटीएस ने चर्चित गोधरा कांड के मुख्य आरोपी फारुक भाणा को बुधवार को गिरफ्तार किया। भाणा पर गोधरा में ट्रेन जलाने का आरोप है।

गोधरा कांड की साजिश रचने और ट्रेन जलाने का मुख्य आरोपी भाणा साल 2002 से फरार था। बुधवार को एटीएस ने उसे गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की।

2002 में हुआ था गोधरा कांड
-गौरतलब है कि 27 फरवरी 2002 को हुए गोधरा कांड के बाद गुजरात में दंगे भड़क गए थे।
-ट्रेन में आग लगाए जाने से करीब 59 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई थी।

godhra-1टोल प्लाजा से हुआ गिरफ्तार
-सूत्रों के मुताबिक, फारुक को पंचमहल जिले के कलोल टोल प्लाजा से गिरफ्तार किया गया है।
-गोधरा इसी जिले के अंतर्गत आता है।
-आरोपी की गिरफ्तारी के संबंध में एटीएस तीन बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी।

क्या है पुलिस की चार्जशीट में

-पुलिस की चार्जशीट में कहा गया है कि पूर्व निगम पार्षद फारुक ने 27 फरवरी 2002 को गोधरा में एक गेस्‍टहाउस में करीब 20 लोगों की मीटिंग में हिस्‍सा लिया था।
-इसमें कथित तौर पर यूपी के अयोध्या से कारसेवकों को लेकर लौट रही ट्रेन पर हमला करने की साजिश रची गई थी।
-भीड़ ने गोधरा स्टेशन पर रुकते ही ट्रेन के कई कोचों को आग के हवाले कर दिया था।
-घटना में 50 से अधिक लोगों की मौत हुई थी, जिसमें कई महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे।