×

अखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दिया

aman

amanBy aman

Published on 25 Sep 2017 5:30 AM GMT

अखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दिया
X
अखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दिया
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक और अब अपने बेटे से संरक्षक करार दिए गए मुलायम सिंह यादव ने सोमवार (25 सितंबर) को फिर अपने बेटे अखिलेश यादव पर तंज कसा। कहा, कि जो अपने बाप का नहीं हुआ, वो देश या किसी और का क्या होगा लेकिन फिर भी वो उसे आशीर्वाद देते हैं क्योंकि वो बेटा है। उन्होंने अखिलेश को धोखेबाज भी बताया। हालांकि, मुलायम ने ये भी कहा, कि अखिलेश ने जो फैसले लिए हैं उससे वो सहमत नहीं हैं।

सपा संरक्षक ने उन अटकलों पर ये कह कर विराम लगा दिया कि वो अभी कोई राजनीतिक दल नहीं बना रहे ।राजनीतिक हलकों में इस बात की जोरदार चर्चा चल रही थी कि मुलायम आज नई राजनीतिक पार्टी बनाने का ऐलान कर सकते हैं।

मुलायम ने कहा, कि अब जो समाजवादी पार्टी से सहमत नहीं हैं, उससे क्या कहें।‘आस्तीन का सांप कौन है?’ यह पूछे जाने पर मुलायम ने उल्टे सवाल किया, किसे कहा गया आस्तीन का सांप? सपा संरक्षक ने कहा, उसने (अखिलेश यादव) तीन महीने के लिए कहा था, कि राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेगा। उसने बाप को धोखा दिया है। देश के सबसे बड़े नेता ने भी कह दिया, जो बाप का नहीं हुआ वो किसी और का क्या होगा। वो कभी सफल नहीं हो सकता। जिसने बाप को धोखा दिया वह किसका होगा।

...उससे क्या कहें

अखिलेश यादव से जुड़े सवाल पर मुलायम सिंह यादव ने कहा, 'वो पुत्र है, तो मैं उसे आशीर्वाद देता हूं। लेकिन उसने जो निर्णय लिया है उससे सहमत नही हूं। अब जो समाजवादी पार्टी से सहमत नहीं हैं, उससे क्या कहें।' एक अन्य सवाल के जवाब में मुलायम सिंह ने कहा, आज कोई नई पार्टी नहीं बना रहे हैं।

'आस्तीन का सांप कौन है?' यह पूछे जाने पर मुलायम ने उल्टे सवाल किया, किसे कहा गया आस्तीन का सांप?

आगे की स्लाइड में पढ़ें प्रेस कॉन्फ्रेंस में और क्या बोले मुलायम सिंह यादव ...

उसने बाप को धोखा दिया

एक अन्य सवाल के जवाब में सपा संरक्षक ने कहा, उसे (अखिलेश यादव) तीन महीने के लिए कहा था, कि राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेगा। उसने बाप को धोखा दिया है। देश के सबसे बड़े नेता ने भी कह दिया, जो बाप का नहीं हुआ वो किसी और का क्या होगा। वो कभी सफल नहीं हो सकता। जिसने बाप को धोखा दिया वह किसका होगा।

शिवपाल के इस प्रेस कांफ्रेंस में नहीं होने पर पूछे गए सवाल पर पूर्व सीएम ने कहा, 'वो इटावा में हैं।'

ये भी पढ़ें ...लोहिया ट्रस्ट से हटाए गए रामगोपाल, मुलायम ने शिवपाल को बनाया सचिव

शिवपाल की वो जानें

एक अन्य सवाल के जवाब में मुलायम बोले, 'अखिलेश यादव पार्टी से अलग काम कर रहे हैं, वो झूठ बोल रहे हैं। जो बाप का नहीं हुआ वो किसी का नहीं हो सकता। तीन महीने में वादा किया था कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद वापस कर देगा। कहा था, हम आगरा के राष्ट्रीय सम्मेलन में नहीं जाएंगे। शिवपाल की वो जानें कि वो जाएंगे कि नहीं।'

असली समाजवादी हम हैं

पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, असली समाजवादी हम हैं। सब मेरे साथ हैं। अखिलेश तो पार्टी छोड़ चुके हैं। वहीं, फूलपुर और गोरखपुर उप चुनाव पर उन्होंने कहा, हम उस पर विचार करेंगे। साथ ही डिंपल यादव के चुनाव नहीं लड़ने वाले अखिलेश यादव के दिए बयान पर मुलायम बोले, वह अखिलेश यादव जानें। हम समाजवादी पार्टी के साथ हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के आखिर में जब मुलायम से ये पूछा गया कि आप अखिलेश के साथ हैं या शिवापाल के साथ। तो उन्होंने कहा, हम समाजवादी पार्टी के साथ हैं।

तीन साल में कुछ नहीं किया

मुलायम सिंह ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कुछ काम नहीं किया, पेट्रोलियम को जीएसटी में लाना चाहिए ताकि कीमतें कम हों।

यूपी में क़ानून का शासन खत्म हो गया है

मुलायम बोले, समान विचारधारा वालों को एक साथ आना चाहिए, ताकि देश को बचाया जा सके। केंद्र की बीजेपी सरकार के साथ उन्होंने प्रदेश की योगी सरकार पर भी हमला बोला। कहा, प्रदेश की सरकर ने भी 6 महीने में कुछ नहीं किया। बीएचयू में आज लड़कियां सुरक्षित तक नहीं हैं। राज्य में क़ानून का शासन खत्म हो गया लगता है।

कथनी करनी में फ़र्क़ है

मुलायम आगे बोले, 'मैं प्रदेश में तीन बार सीएम रहा। उस दौरान सबको बिजली दी। अब शहर, गांव तो छोड़िए लखनऊ के लोग पॉवर कट से परेशान हैं। बोले, राज्य सरकार ने फसली ऋण माफ किया। इसे 1 लाख रुपए तक माफ किया जाना चाहिए था। उन्होंने आरोप लगाया प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है। किसान बेहाल है। ऋण माफी योजना से सहकारी बैंकों को अलग रकबा गया। सरकार की कथनी करनी में फ़र्क़ है, जो दिख रहा है।'

समाजवादियों की एकता की ज़रूरत

उन्होंने कहा, बीजेपी सरकार ने शिक्षामित्रों के साथ छल किया है। हमारी सरकार ने पढ़ाई, दवाई, मुफ्त सिंचाई मुफ्त और युवाओं को रोजगार दिया था। लेकिन बीजेपी सरकार ने नोटबंदी के जरिए लोगों की कमर तोड़ दी। इसलिए अब समय आ गया है कि देश में समाजवादियों की एकता की ज़रूरत दिख रही है। हम समाजवादी विचारधारा के लोगों को एक कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी से लोग जुड़ें।

इस मौके पर लोहिया ट्रस्ट के नए सचिव शिवपाल यादव, आशु मलिक, भगवती सिंह, मधुकर जेटली, शारदा प्रताप शुक्ल शादाब फातिमा सहित ढेरों पार्टी कार्यकर्ता और मुलायम समर्थक मौके पर मौजूद रहे।

अखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दियाअखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दियाअखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दिया

अखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दिया

अखिलेश पर मुलायम बोले- पुत्र है, आशीर्वाद दूंगा, लेकिन उसने धोखा दिया

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story