Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

देखिए कैसे सपाइयों पर टूटा पुलिस का कहर, पीट-पीट कर BUM कर दिए लाल

By

Published on 15 Jun 2016 5:54 PM GMT

देखिए कैसे सपाइयों पर टूटा पुलिस का कहर, पीट-पीट कर BUM कर दिए लाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

[nextpage title="next" ]police

आगरा/लखनऊ: आम जनता पर पुलिस की बर्बरता का कहर तो आपने अक्सर सुना और देखा भी होगा लेकिन यूपी में सत्ता में विराजमान समाजवादी पार्टी के दो कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने 24 घंटे के अंदर अपनी वर्दी का रौब दिखाया। पुलिस ने दोनों सपाइयों को पीट-पीट कर उनका बम लाल कर दिया।

दरअसल पहला मामला यूपी के गोरखपुर जिले का है। जहां मंगलवार रात को सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष गोपाल यादव के बेटे और सपा की जिला कार्यकारिणी में पदाधिकारी एडवोकेट गौरव यादव की कैंट थाने में पुलिस ने जमकर पिटाई कर दी थी।

वहीँ दूसरा मामला यूपी के आगरा जिले का है। जहां सोमवार को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता आलोक की एसओ अनुज मलिक ने जमकर धुनाई कर दी और बाद में उससे 25,000 रुपए लेकर रिहा कर दिया।

बता दें कि newztrack.com ने इस खबर को प्रमुखता से पब्लिश किया था जिसके बाद गुरुवार को इस मामले में संज्ञान लेते हुए आगरा के एसएसपी प्रीतिंदर पाल ने एसओ एमएम गेट अनुज मलिक को लाइन हाजिर किया।

क्या है मामला ?

-मामला थाना एमएम गेट की है ।

-जहां शीतला गली में एक बिल्डिंग में लगभग 100 से ज्यादा किरायेदार रहते है।

-सपा कार्यकर्ता आलोक ने आरोप लगाया कि नवीन गोस्वामी, अशोक गोस्वामी और कपिल अग्रवाल तीनो इस क्षेत्र के भूमाफिया हैं।

-आलोक ने बताया कि आए दिन भू माफिया अपने साथ पुलिस को लाकर सभी किरायेदारों को हड़काता है और खाली करने की धमकी देता है।

-सोमवार को आलोक अपने घर में मरम्मत करा रहा था तभी एसओ अनुज मलिक घर आए और उसे धमकाते हुए थाने ले गए।

यह भी पढ़ें ... सपा नेता के बेटे की पिटाई मामले में SSP अनंत देव को CM ने किया सस्पेंड

थाने में बैठे थे भूमाफिया

-अलोक ने बताया कि जब एसओ उसे पकड़कर थाने में लाए तो उस समय थानें में तीनो भूमाफिया पहले से बैठे थे।

-जिनके इशारे पर एसओ अनुज मलिक ने मुझे हवालात में बंद कर दिया।

-आलोक ने बताया कि जब मैंने सपा प्रत्याशी कुंदनिका शर्मा से बात करने की कोशिश की तो एसओ अनुज मलिक ने मुझे जेल भिजवाने की धमकी दी।

-इसके बाद एसओ अनुज मलिक ने मुझे उल्टा लेटाकर बुरी तरह से बेल्ट और डंडे से पीटा।

परिजनो से छोड़ने के एवज में लिए पैसे

सपा कार्यकर्ता आलोक ने बताया कि एसओ अनुज मलिक ने उसे रिहा करने के एवज में 50 हजार रुपए की मांग की लेकिन बाद में 25 हजार रुपए लेकर छोड़ दिया और साथ ही मकान खाली करने की धमकी भी दी।

क्या कहना है एसओ अनुज मलिक का

-एसओ एमएम गेट अनुज मलिक ने बताया कि उन्होंने आलोक को उनके तीनों मकान मालिको से बातचीत के लिए बुलाया था।

-एसओ अनुज मालिक ने कहा कि 'हां' थोड़ा बहुत आलोक को हड़काया जरुर था लेकिन मारा नहीं था।

-मैं नहीं जानता कि आलोक मुझपर मारने का आरोप क्यों लगा रहा है।

सपा प्रत्याशी के साथ मिला आई जी से

विक्टिम आलोक बुधवार को सपा प्रत्याशी कुंदनिका शर्मा के साथ आईजी से मिले जिस पर आईजी डीसी मिश्रा ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं साथ ही एसएसपी प्रीतिंदर पाल ने विक्टिम के मेडिकल कराने के आदेश दिए है और दोषी के खिलाफ कारवाई करने की बात कही है।

अगली स्लाइड में देखें पुलिस की क्रूरता की फोटो ...

[/nextpage]

[nextpage title="next" ]

samajwadi party worker गोरखपुर और आगरा के समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर टूटा यूपी पुलिस का कहर

[/nextpage]

Next Story