×

काले पैसे को सफेद करने के लिए नोटबंदी की गईः राहुल गांधी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 30 Aug 2018 12:07 PM GMT

काले पैसे को सफेद करने के लिए नोटबंदी की गईः राहुल गांधी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी को घोटाला करार देते हुए गुरुवार को कहा कि इस कवायद का मुख्य मकसद 15-20 बड़े और हितैषी पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाना था, जिनका कर्ज एनपीए (गैर-निष्पादित पूंजी यानी फंसे हुआ कर्ज) में तब्दील हो गया है। राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत के दौरान सवालिया लहजे में कहा, "उन्होंने (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) ऐसा (नोटबंदी) क्यों किया? उनके 15-20 बड़े उद्योगपति मित्रों ने हजारों करोड़ का एनपीए जमा कर रखा था। इसलिए नोटबंदी के जरिए आपका (आम आदमी का) पैसा आपकी जेब से निकालकर सीधे देश के सबसे बड़े और (सरकार) हितैषी पूंजीपतियों की जेब में डाल दिया गया।"

उन्होंने कहा कि मोदी के मित्रों ने नवंबर 2016 की नोटबंदी के बाद काले धन को सफेद किया।

राहुल ने कहा, "उदाहरण के तौर पर, गुजरात के जिस सहकारी बैंक के निदेशक (भाजपा अध्यक्ष) अमित शाह हैं उसमें नोटबंदी के बाद 700 करोड़ रुपये का लेन-देन हुआ। इसे कोई जुमला नहीं कहा जा सकता है। इसे घोटाला कहा जा सकता है।"

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "सचमुच प्रधानमंत्री मोदी ने वह किया जो पिछले 70 साल में नहीं हुआ। उन्होंने ऐसा (नोटबंदी के जरिए) करके अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story