RBI गवर्नर रघुराम के बेबाक बोल- देश में अब भी चल रहा इंस्‍पेक्‍टर राज

Published by Newstrack Published: May 23, 2016 | 12:47 pm
Modified: August 10, 2016 | 4:00 am

लखनऊ: रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया के गवर्नर रघुराम राजन अपनी बात बेवाकी से कहने में किसी आलोचना की परवाह नहीं करते। जबकि केंद्र सरकार की आलोचना के कारण बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी पीएम नरेंद्र मोदी से उन्हें हटाने की गुजारिश भी कर चुके हैं।

यह भी पढें… अब स्वामी के निशाने पर आरबीआई गवर्नर, कहा राजन को हटा कर शिकागो भेजो

राजन ने शनिवार को एक मिटिंग में कहा कि देश ने लाइसेंस राज को तो गुड बाय कह दिया है, लेकिन इंस्‍पेक्टर राज अभी भी चल रहा है। उन्होंने कहा कि इंस्‍पेक्टर राज के कारण छोटी और मंझोली इंडस्ट्री प्रभावित हो रही है।

गवर्नर ने और क्‍या कहा
-मिटिंग में उन्होंने सिस्टम में बदलाव की वकालत की और कहा कि ज्यादा नियमों से ज्यादा समस्या पैदा होती है।
-नियम कम होंगे तो समस्या भी कम होगी और इससे स्टार्ट अप इंड्रस्ट्रीज को भी मदद मिलेगी।
-भारत के ग्रोथ को लेकर किए जा रहे दावों पर राजन ने कुछ दिन पहले कहा था कि हमारी स्थिति बहुत अच्छी नहीं है।
-हम अंधों में काने राजा की तरह हैं। विकास को लेकर अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है।

-इस बयान पर सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम को राजन को हटाने के लिए पत्र लिखा था।
-इंस्‍पेक्टर राज वाला उनका बयान भी स्वामी को उकसाने वाला है।
-राजनीतिक प्रेक्षक मानते हैं कि स्वामी का हमला अप्रत्यक्ष रूप से वित्त मंत्री अरूण जेटली पर भी किया क्योंकि उन्होंने राजन के बयान पर कुछ भी नहीं कहा था।