Top

SA vs IND 1st Test : भारत को मिला 208 रनों का लक्ष्य, मार लो मैदान

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 Jan 2018 10:47 AM GMT

SA vs IND 1st Test : भारत को मिला 208 रनों का लक्ष्य, मार लो मैदान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

केपटाउन : अपने तेज गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने न्यूलैंड्स मैदान पर जारी पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी 130 रनों पर समेट दी। इस तरह भारत को यह मैच जीतने के लिए 208 रनों का लक्ष्य मिला है। अब्राहम डिविलियर्स के रूप में दक्षिण अफ्रीका के अंतिम विकेट गिरने के साथ ही भोजनकाल की घोषणा कर दी गई।

तीसरे दिन का खेल बारिश के कारण बाधित रहा था। अपने दूसरे दिन के स्कोर दो विकेट पर 65 रनों से आगे खेलने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम भारतीय गेंदबाजों के आगे बेबस नजर आई 65 रन जोड़कर पवेलियन लौट गई। 41.2 ओवरों का सामना करने वाली मेजबान टीम ने अपने आठ विकेट 65 रनों पर गंवा दिए।

दूसरे दिन कागिसो रबादा (5) और हाशिम अमला (4) नाबाद लौटे थे। मेजबानों को चौथे दिन पहला झटका अमला के रूप में लगा। उन्हें मोहम्मद शमी ने रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट करवाया।

अमला के आउट होने के बाद रबादा को भी शमी ने ज्यादा देर तक मैदान पर नहीं टिकने दिया। वह शमी की गेंद पर कप्तान विराट कोहली के हाथों लपके गए।

ये भी देखें : SA vs IND 1st Test: Proteas all out for 130; India needs 208 to win

इस पारी में दक्षिण अफ्रीका के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले अब्राहम डिविलियर्स (35) ने विकेट के एक छोर पर खड़े पारी को संभालने की हर कोशिश कर रहे थे, लेकिन उन्हें बाकी खिलाड़ियों का साथ नहीं मिला।

रबादा के आउट होने के बाद डिविलियर्स का साथ देने आए कप्तान फाफ डु प्लेसिस को इस मैच के जरिए टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने वाले जसप्रीत बुमराह ने खाता खोलने का मौका भी नहीं दिया और विकेट के पीछे खड़े रिद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट कर मेजबान टीम का पांचवां विकेट गिराया।

प्लेसिस के बाद क्विंटन डी कॉक (8) भी बुमराह की ही गेंद पर साहा के हाथों लपके गए। क्विंटन जब आउट हुए तब टीम का स्कोर 92 था। टीम के खाते में तीन रन ही जुड़ पाए थे कि शमी ने वर्नोन फिलेंडर को पगबाधा आउट कर टीम का सातवां विकेट भी गिरा दिया। फिलेंडर भी खाता खोले बिना पवेलियन लौट गए।

डिविलियर्स के साथ केशव महाराज (15) ने 27 रनों की साझेदारी की और टीम को 100 के आंकड़े के पार पहुंचाया, लेकिन भुवनेश्वर कुमार ने इस साझेदारी को ज्यादा देर तक टिकने नहीं दिया। केशव भुवनेश्वर की गेंद पर सीधा शॉट मारने की कोशिश कर रहे थे, जब गेंद उनके बल्ले से लगकर साहा के हाथों में समा गई। 122 के कुल योग पर केशव भी पवेलियन पहुंचे।

भुवनेश्वर ने 130 के कुल स्कोर पर मोर्ने मोर्केल (2) को भी साहा के ही हाथों कैच आउट किया और दक्षिण अफ्रीका का नौैंवा विकेट गिरा दिया। इसी स्कोर पर एक छोर पर टीम की पारी को संभाले खड़े डिविलियर्स भी आउट हो गए। बुमराह की गेंद पर लम्बा शॉट मारने के चक्कर में ठीक बाउंड्री के पास भुवनेश्वर के हाथों लपके गए।

डिविलियर्स के आउट होने के साथ ही पहले सत्र के समापन की घोषणा कर दी गई। इस टेस्ट मैच में भारत के लिए दक्षिण अफ्रीका की दोनों पारियों में साहा ने कुल 10 कैच पकड़े। इसके अलावा, यह पहली बार हुआ है कि भारत के चार तेज गेंदबाजों ने किसी टीम की दोनों पारियों में कम से कम एक-एक विकेट हासिल किया है।

मेजबान टीम को सस्ते में समेटने में मोहम्मद शमी (3/28) और जसप्रीत बुमराह (3/39) के अलावा, भुवनेश्वर कुमार (2/33) और हार्दिक पांड्या (2/27) ने अहम भूमिका निभाई।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story