Top

समाजवादी दंगल: CM अखिलेश की मीटिंग में शामिल हुए मंत्री अरविन्द सिंह गोप-पवन पांडेय

By

Published on 29 Dec 2016 4:17 AM GMT

समाजवादी दंगल: CM अखिलेश की मीटिंग में शामिल हुए मंत्री अरविन्द सिंह गोप-पवन पांडेय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सपा परिवार में अब टिकट बंटवारे को लेकर जंग छिड़ गई है। मंत्री अरविन्द सिंह गोप और पवन पांडेय समेत कई नेताओं के साथ सीएम अखिलेश ने गुरुवार को मीटिंग की है। अखिलेश कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी होने के बाद पार्टी और संगठन में कमज़ोर नज़र आ रहे हैं। अखिलेश समर्थकों में मायूसी दिखी। सीएम आवास पर भी भीड़ कम दिखी। बाहर समर्थकों की भीड़ है लेकिन वो जोश नहीं दिखा जो पूर्व में चचा भतीजे की लड़ाई में पहले नज़र आ रहा था।⁠⁠⁠⁠

सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने बुधवार (28 दिसंबर) को विधानसभा चुनाव के लिए सपा के 325 कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी कर दी। इसमें अखिलेश के करीबियों का पत्ता साफ कर दिया गया। लिस्ट में चाचा शिवपाल के करीबियों को ज्यादा तवब्जो दी गई।

इसके बाद अखिलेश ने नाराजगी जताई, हालांकि उन्होंने बुधवार को कहा था कि इसके लिए वह नेताजी से बात करेंगे। फिलहाल सीएम अखिलेश ने गुरुवार को 11 बजे राजधानी स्थित अपने आवास पर समर्थक विधायकों की बैठक बुलाई है।

मीटिंग में आएंगे अखिलेश समर्थक

अखिलेश की बैठक में उन विधायकों और मत्रियों के आने की संभावना है जिनके टिकट काट दिए गए हैं। अखिलेश ने बुधवार शाम भी तीन मंत्रियों और दर्जनों विधायकों के साथ लंबी मीटिंग की थी। बैठक के बाद एक विधायक ने कहा कि हम नेताजी के निर्देशों का पालन करेंगे।

क्‍यों नाराज हुए सीएम अखिलेश

अखिलेश यादव ने सिगबतुल्ला अंसारी और अतीक अहमद जैसे दागियों को टिकट देने का विरोध किया था। बुधवार को जारी सूची में इन्हें टिकट दिया गया है। इसी तरह अखिलेश सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रजापति और नारद राय को भी टिकट मिला है। सीएम अखिलेश द्वारा बर्खास्‍त किए गए मंत्री राजकिशोर को भी सपा का टिकट मिला है। अखिलेश ने भ्रष्‍टाचार के आरोपों पर प्रजापति, राय और राजकिशोर को मंत्रिमंडल से हटा दिया था।

अखिलेश ने सौंपी थी 175 उम्मीदवारों की सूची

सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव के 175 उम्मीवारों को टिकट दिए जाने के बाद सीएम अखिलेश यादव ने भी अपनी सूची सपा सुप्रीमो को सौंपी थी। इस सूची में दागियों समेत दो दर्जन प्रत्याशियों के नाम काट दिए गए थे। बता दें कि अखिलेश द्वारा उम्मीदवारों की सूची सौंपे जाने पर शिवपाल यादव ने ऐतराज जताया था। इसी मुद्दे पर मंगलवार को शिवपाल यादव कई पार्टी नेताओं के साथ मुलायम सिंह से उनके आवास पर मिले थे।

अखिलेश के करीबियों का पत्‍ता साफ

सपा के 325 कैंडिडेट्स की लिस्ट से सीएम अखिलेश के करीबियों का पत्‍ता साफ हो गया । अयोध्या में मंत्री पवन पाण्डेय, बलिया में रामगोविंद और बाराबंकी अरविंद सिंह गोप का टिकट काट दिया गया। गोप की जगह राकेश वर्मा को टिकट दिया गया है। राकेश वर्मा बेनी प्रसाद वर्मा के पुत्र हैं। पवन पांडेय की जगह आशीष पांडेय को टिकट दिया गया है।

‘फिर से नेताजी से बात करूंगा’

बुधवार दोपहर जब सपा उम्मीदवारों की सूची सामने आई तो उस वक्त सीएम अख्‍ािलेश बुंदेलखंड दौरे पर थे। इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘सूची में जिनका नाम कटा, उनके लिए फिर से नेताजी से बात करेंगे।’ सीएम ने कहा कि ‘अगर बुंदेलखंड की जनता कहे, तो चुनाव लड़ने को तैयार हूं। अपने किए काम के बल पर फिर सरकार बनाएंगे।’

Next Story