×

तो सरदार पटेल से भी ऊंची होगी श्री राम की मूर्ति, 92 वर्षीय मूर्तिकार से चल रही बात

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 2 Nov 2018 2:19 PM GMT

तो सरदार पटेल से भी ऊंची होगी श्री राम की मूर्ति, 92 वर्षीय मूर्तिकार से चल रही बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

योगेश मिश्र

लखनऊ: आज भले ही स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी दुनिया की सबसे बड़ी मूर्तियों में शुमार हो, लेकिन आने वाले दिनों में सरदार वल्‍ल्‍भ भाई पटेल की इस मूर्ति से बड़ी मूर्ति बनाने का ऐलान भाजपा करने वाली है। भाजपा अयोध्‍या में भव्‍य और विशालकार भगवान राम की मूर्ति बनाने जा रही है।

गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी बीते दिनों जब उत्‍तर प्रदेश की यात्रा पर आए थे, तब दोनों मुख्‍यमंत्रियों के बीच इसे अमलीजामा पहनाने पर सहमति बन गई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही इस योजना को अपनी ओर से हरी झंडी दिखा चुके हैं। यह मूर्ति महाराष्‍ट्र में बनने वाली शिवाजी की मूर्ति से भी ऊंची होगी।

ये भी देखें: स्टैच्यू ऑफ यूनिटी : योगी आदित्यनाथ बने पहले VIP विजिटर

स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी पर खर्च हुए 2900 करोड़

स्‍टैच्‍यू ऑफ यूनिटी में 2900 करोड़ रूपये खर्च हुए हैं, जबकि शिवाजी की मूर्ति में 3600 करोड़ रूपये खर्च होने का अनुमान है। भगवान श्री राम की मूर्ति पर चार हजार करोड़ रूपये से अधिक की धनराशि खर्च करने की योजना तैयार की जा रही है। इस मूर्ति के बहाने अयोध्‍या को पर्यटन के नक्‍शे पर लाने के लिए अयोध्‍या में सभी राज्‍यों के अतिथिगृह भी बनाए जाएंगे। गौरतलब है कि नर्मदा के तट पर स्थित सरदार पटेल की मूर्ति के आस पास भी हर राज्‍य के अतिथिगृह बनाए जाने के लिए भूखंड दिए जा रहे हैं। भगवान श्री राम की मूर्ति भी बनाने के लिए 92 वर्षीय मूर्तिकार एमवी सुतार से बातचीत चल रही है।

ये भी देखें: दीपोत्सव से पहले ही रंग बिरंगी रोशनी में दमक उठी अयोध्या

जनभागीदारी से होगा काम

इस मूर्ति के लिए भारतीय जनता पार्टी जनजागरण भी करने का खाका तैयार कर रही है। जिस तरह शिलापूजन में मंदिर निर्माण में शिलाएं गांव गांव से मंगाई गई थीं, वैसे ही जन भागीदारी भगवान श्री राम की मूर्ति में भी कराई जाएगी। डाक्‍यूमेंटेशन के स्‍तर पर होने की वजह से अभी इस योजना को काफी गोपनीय रखा जा रहा है। क्‍योंकि मूर्ति की ऊंचाई और बाकी चीजें अभी डिजाइन के स्‍तर पर तैयार करवाए जा रहे हैं। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ शुक्रवार को अपने अमले के साथ सरदार पटेल की मूर्ति और आस पास के प्रोजेक्‍ट देखने गए थे। जल्‍द ही पर्यटन महकमे की एक टीम अध्‍ययन के लिए साधुबेट जाएगी।

ये भी देखें: अयोध्‍या : दिवाली तक खुशखबरी देंगे सीएम योगी, भागवत-शाह मीटिंग का असर !

sudhanshu

sudhanshu

Next Story