×

लखनऊ: 11 घंटे बाद हुआ आतंक का खात्मा, मुठभेड़ में ISIS आतंकी सैफुल्लाह ढेर

एटीएस की टीम मंगलवार (7 मार्च) की दोपहर ख़ुफ़िया जानकारी के बाद संदिग्धों को दबोचने गई थी। इसी दौरान संदिग्ध आतंकियों को खबर लग गई और उन्होंने एटीएस टीम पर फायरिंग कर दी।

aman

amanBy aman

Published on 7 March 2017 10:46 AM GMT

लखनऊ: 11 घंटे बाद हुआ आतंक का खात्मा, मुठभेड़ में ISIS आतंकी सैफुल्लाह ढेर
X
लखनऊ: 10 घंटे बाद हुआ आतंक का खात्मा, मुठभेड़ में ISIS आतंकी सैफुल्लाह ढेर
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शरीब जाफरी/ सुधांशु सक्सेना

लखनऊ: राजधानी के ठाकुरगंज के हाजी कॉलोनी के एक मकान में आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन आखिरकार करीब 11 घंटे बाद खत्म हो गया। एनकाउंटर में यूपी एटीएस (एंटी टेररिस्ट स्क्वाड) ने इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया (आईएसआईएस) के आतंकीआतंकी सैफुल उर्फ सैफुल्लाह को मार गिराया। यूपी के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) दलजीत चौधरी ने इसकी पुष्टि की।

एटीएस के आईजी असीम अरुण ने बताया कि पहले नाईट विजन कैमरों से देखने पर ऐसा लग रहा था कि वहां दो आतंकी छिपे हैं, लेकिन अंदर एक ही आतंकी छिपा था। जिसे देर रात करीब 03 बजे मार गिराया गया है।

पुलिस, बम स्क्वाड दस्ता और फोरेंसिक टीम ने मकान में तलाशी अभियान भी चलाया। जिसके बाद मकान को सील कर दिया गया है। बता दें, कि यूपी एटीएस की टीम मंगलवार (7 मार्च) की दोपहर खुफिया जानकारी के बाद संदिग्धों को दबोचने गई थी। इसी दौरान संदिग्ध आतंकी को खबर लग गई और उन्होंने एटीएस टीम पर फायरिंग कर दी।

यह भी पढ़ें .... ATS और कानपुर पुलिस ने संदिग्ध भाईयों को दबोचा, ठाकुरगंज ऑपरेशन से जुड़े हो सकते हैं तार

एक्सपर्ट कमांडो ने किया लीड

यूपी एटीएस के एक्सपर्ट कमांडो ने इस ऑपरेशन को लीड किया। आतंकी ने खुद को एक कमरे में बंद कर रखा है। पुलिस आतंकी को जिंदा पकड़ना चाहती थी, लेकिन आतंकी सैफुल्लाह ने सरेंडर करने से मना कर दिया। जिसके बाद शाम को पुलिस ने आतंकी को पकड़ने के लिए आंसू गैस और चिली बम का उपयोग किया।

जब देर रात तक आतंकी ने सरेंडर नहीं किया, तो एटीएस टीम ने मकान को चारों तरफ से घेर लिया। एटीएस ने मकान में घुसने के लिए छत और मकान के पीछे की दीवार को कटर मशीन से काटा। पुलिस और आतंकी के बीच कई राउंड फायरिंग भी हुई। जवाबी कार्रवाई में आतंकी सैफुल्लाह मारा गया।

यह भी पढ़ें ... भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में ब्लास्ट, 9 यात्री घायल, शुरुआती जांच में बारूद होने का पता चला

आईजी एटीएस असीम अरुण का कहना है कि हमने माइक्रो ट्यूब कैमरे से कमरे की रेकी की थी, तो लगा था कि दो आतंकी हैं, लेकिन अंदर एक ही आतंकी सैफुल्लाह था।

बता दें कि उज्जैन में 07 मार्च को हुए पैसेंजर ट्रेन ब्लास्ट में पकड़े गए 3 आतंकियों के खुलासे के बाद इटावा, कानपुर और उन्नाव से आतंकियों फैजान, इमरान और फैजल को एटीएस ने अरेस्ट किया है। सभी आतंकी आईएसआईएस के लखनऊ-कानपुर खुरासान मोड्यूल के मेंबर हैं।

Newstrack.com के संवाददाता ने बताया कि लखनऊ में नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) की टीम पहुंच गई है। इस मामले की जांच एनआईए टीम को कर रही है।

यूपी के डीजीपी ने क्या कहा ?

-यूपी के डीजीपी जावीद अहमद ने कहा कि इस मामले में अभी और काम किया जाएगा।

-आतंकी सैफुल्लाह के ग्रुप में 13 आतंकियों में से 06 संदिग्ध आतंकी अभी भी फरार हैं।

-लखनऊ में अभी 02 आतंकी छिपे होने की आशंका है।

-लखनऊ समेत पूरे यूपी में आतंकियों की तलाश के लिए हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

आगे की स्लाइड में पढ़ें कौन है आतंकी सैफुल्लाह ?

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

कौन है आतंकी सैफुल्लाह ?

-जिस मकान में आतंकी सैफुल्लाह छिपा था वह मकान बादशाह नाम के शख्स का है।

आतंकी सैफुल्लाह यूपी के कानपुर का रहने वाला था।

वह जिस डिस्कवर मोटरसाइकिल से चलता था पुलिस ने उसे भी बरामद कर लिया है।

उस मोटरसाइकिल का नंबर UP 78 CP 9704 है।

-वह फिलहाल दुबई में रह रहा है।

-आतंकियों ने 3 महीने पहले यह मकान स्टूडेंट बनकर किराए पर लिया था।

-आतंकी सैफुल्लाह लखनऊ-कानपुर (आईएसआईएस खोरासन) मॉड्यूल का था।

यह भी पढ़ें ... फोटोज: खतरा टला नहीं, ISIS के लखनऊ-कानपुर (खुरासान) मोड्यूल के 6 आतंकी पकड़ से बाहर

गृह मंत्रालय लगातार संपर्क में

इस मामले को लेकर गृह मंत्रालय लगातार यूपी पुलिस के संपर्क में था। वहीं मध्यप्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा, कि खंडवा में हुए रेल हादसे में आतंकी हाथ होने का शक पहले ही जताया था। दूसरी तरफ, एमपी के आईजी लॉ एंड आर्डर मकरंद देवस्कर ने भी भोपाल-उज्जैन ट्रेन धमाके को आतंकी हमला बताया।

मंगाए नाइट विजन कैमरे

एटीएस ने संदिग्ध के साथ ऑपरेशन लंबा खींचता देख, नाइट विजन कैमरे भी मंगवा लिए थे। नाइट विजन कैमरे के जरिए ऑपरेशन जारी रखा गया। ये सभी कोशिशें संदिग्ध को जिंदा पकड़ने के लिए की जा रही हैं। आसपास के इलाकों की बिजली भी काट दी गई थी।

आगे की स्लाइड में देखिए आतंकी के घर से बरामद किया गया सामान

thakurganj1

करीब 11 घंटे तक चली मुठभेड़ में आतंकी को मार गिराने के बाद एटीएस ने आतंकी के घर की तलाशी शुरू की, जिसमें आतंकी गतिविधियों से जुड़ा काफी सामान बरामद किया गया है। एटीएस ने आतंकी सैफुल्लाह के पास से 03 पासपोर्ट लैपटॉप, आईएसआईएस साहित्य से जुडी किताबें, 08 पिस्टल, 650 जिंदा कारतूस, विस्फोतल बनाने की सामग्री, मोबाइल फोन, इंडियन रेलवे का रोड मैप. हार्ड डिस्क, और चाक़ू समेत कई सामान बरामद किया है। इसके साथ ही एटीएस ने मौके से एक नोट भी बरामद किया है, जिसमें सैफुल्लाह ने अपना डेली रूटीन लिख रखा था।

आगे की स्लाइड में देखिए बरामद हुए सामान की और भी तस्वीरें

आगे की स्लाइड में देखिए बरामद हुए सामान की और भी तस्वीरें

आगे की स्लाइड में देखिए बरामद हुए सामान की और भी तस्वीरें

मध्यप्रदेश के भोपाल-उज्जैन ट्रेन ब्लास्ट केस में नया खुलासा सामने आया है। सीरिया से आइएसआइएस के हैंडलर्स ने दिए ट्रेन में बम लगाने के निर्देश दिए थे। ट्रेन में प्लांट किए गए पाइप बम की तस्वीर सीरिया भेजी गई थी। मध्यप्रदेश में पकड़े गए आतंकियों के मोबाइल की जांच में खुलासा हुआ।

लखनऊ का ये घर जिसमें सैफुल छिपा था, यूपी में आईएसआईएस के हेडक्वार्टर के रूप में काम कर रहा था। सैफुल्लाह इसी घर से आईएसआईएस के लिए भर्ती और आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता था। इस घर में इंडियन रेलवे के मैप के साथ काफी सामान बरामद हुआ है। आईएसआईएस का निशाना रेलवे को बड़े पैमाने पर टारगेट करना था।

आगे की स्लाइड में देखिए आतंकी सैफुल्लाह का हर दिन शेड्यूल EXCLUSIVE

अगली स्लाइड में देखिए आतंकी सैफुल्लाह की एक्सक्लूसिव फोटो ...

आगे की स्लाइड में देखिए कैसे एटीएस ने की आतंकी को पकड़ने के लिए जद्दोजहद

आगे की स्लाइडस में देखें ऑपरेशन से जुडी सभी तस्वीरें आशुतोष त्रिपाठी के कैमरे की नजर से ...

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

ठाकुरगंज में ATS का ऑपरेशन जारी, संदिग्ध ISIS आतंकी को जिंदा पकड़ने की कोशिश

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story