×

योगी कैबिनेट: शिक्षामित्रों को मिलेगा वेटेज, नहीं बख्शे जाएंगे BHU के दोषी

aman

amanBy aman

Published on 26 Sep 2017 9:18 AM GMT

योगी कैबिनेट: शिक्षामित्रों को मिलेगा वेटेज, नहीं बख्शे जाएंगे BHU के दोषी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: लोकभवन में मंगलवार (26 सितंबर) को हुई योगी कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसले लिए गए।कैबिनेट बैठक के बाद प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि बैठक में निजी स्कूलों में गरीब बच्चों के कोटे, शिक्षामित्रों से जुड़े मुद्दे, वन नीति और खादी को बढ़ावा देने आदि का फैसला लिया गया।

श्रीकांत शर्मा ने बताया कि निजी स्कूलों में गरीब बच्चों का कोटा हो, इसका अब कड़ाई से पालन होगा। साथ ही उन्होंने बताया कि बेसिक शिक्षा परिषद में अब लिखित परीक्षा 60 नंबर की होगी, जिसमें 40 अंक मेरिट की होगी। टीईटी पास करने वालों को ही पात्र माना जाएगा। पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण करना अब अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा, शिक्षामित्रों के मामले में सुप्रीम कोर्ट के हिसाब से निर्णय लिया जाएगा। शिक्षामित्रों को 25 अंकों का वेटेज मिलेगा।

वन नीति में बदलाव किया गया

श्रीकांत शर्मा ने बताया कि वन नीति में भी बदलाव किया गया है। अब 62 जिलों में निजी भूमि पर आम, नीम, महुआ, खैर को छोड़कर और 13 जिलों में निजी भूमि पर आम, नीम, साल, महुआ, खैर, सागौन, शीशम को छोड़कर अन्य वृक्ष काटने में किसान को किसी की अनुमति की ज़रूरत नहीं होगी। साथ ही किसानों से एक पेड़ काटने पर 10 पेड़ लगाने का आग्रह किया जाएगा।

छात्रों के कंधों पर बंदूक रख चलाई जा रही

वहीं, आखिर में बीएचयू मामले पर श्रीकांत शर्मा ने कहा, इस घटना की न्यायिक जांच के आदेश दिए गए हैं। छात्रों से संवाद किया जाएगा। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा, छात्रों के कंधों पर बंदूक रख चलाई जा रही है। ऐसी राजनीति सही नहीं है। दोषियों को चिन्हित किया जा रहा है।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story