Top

आयुष्मान भारत: प्रमुख सचिव को डर, कहीं हो न जाए फर्जीवाड़ा, खुद करी अपील

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 29 Oct 2018 2:00 PM GMT

आयुष्मान भारत: प्रमुख सचिव को डर, कहीं हो न जाए फर्जीवाड़ा, खुद करी अपील
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) में नौकरी के झांसे में न आएं। भोले—भाले युवाओं को योजना में भर्ती का झांसा देकर भ्रमित किया जा रहा है। इससे जुड़े भर्ती विज्ञापन या सोशल मीडिया पर जारी विज्ञापन के बारे में एसएसपी या एसपी को बताएं। खुद प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, प्रशांत त्रिवेदी ने यह स्वीकारते हुए कहा है कि कई जिलों से फर्जी भर्ती विज्ञापन की जानकारी आ रही है।

ये भी पढ़े:शिवसेना को कोर्ट पर भरोसा नहीं, राम मंदिर मामले में अदालत कुछ नहीं करेगी

प्रमुख सचिव जनता को कर रहे सतर्क

जिलों में यह फर्जीवाड़ा इतना बढ़ गया है कि जनता को सतर्क करने के लिए महकमे के प्रमुख सचिव को खुद अपील करनी पड़ रही है। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा है कि इस प्रकार के भ्रामक विज्ञापन की जानकारी तुरंत अपने जिले के एसएसपी या एसपी को दें।

ये भी पढ़े:मैं गुरूद्वारे में आज भी बिन बुलाए जाता हूं, ये है मेरा अधिकार: सीएम योगी

उन्होंने साफ कहा कि आयुष्मान भारत या राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में भर्ती से सम्बन्धित विज्ञापन केवल राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की अधिकृत वेबसाइट पर ही प्रकाशित किये जाते हैं। इसके लिए प्रत्येक व्यक्ति को सजग रहने की जरूरत है, ताकि असामाजिक तत्वों व ठगों से बचा जा सके।

ये भी पढ़े:अफसरों का इंतजार करते बैठे रहें मंत्रीजी, ऐसे चल रही योगी सरकार

sudhanshu

sudhanshu

Next Story