×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Lok Sabha Election: टूटा गर्मी का 39 साल का रिकॉर्ड, बूथ पर वोटरों को पहुंचाने की चिंता में आ रहा पसीना

Lok Sabha Election:

Purnima Srivastava
Published on: 27 May 2024 2:06 AM GMT
Lok Sabha Election
X

Lok Sabha Election (Newstrack)

Lok Sabha Election: गोरखपुर मंडल की छह लोकसभा सीटों पर एक जून को मतदान है। इस दिन पारा 43 से 44 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान लगाया जा रहा है। गोरखपुर में तापमान पिछले 39 साल का गर्मी का रिकॉर्ड तोड़ चुका है। चुनाव के चंद दिन बचे हैं। ऐसे में नेताओं के तुफानी दौरों के साथ जनसंपर्क में भी तेजी दिख रही है। नेताओं को अब इस चिंता में माथे पर पसीना आ रहा है कि एक जून की दोपहरी में वोटर कैसे बूथों तक पहुंचेगा।

गोरखपुर मंडल के तीन जिलों में मई में दिन के साथ रात में भी गर्मी ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। रविवार की रात के तापमान ने बीते 39 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। न्यूनतम तापमान 30.3 डिग्री सेल्सियस रहा। यह वर्ष 1985 के बाद मई में सर्वाधिक न्यूनतम तापमान है। वर्ष 1985 में मई में रात का तापमान 32.4 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया था। वहीं, वर्ष 2000 में 13 मई को रात का तापमान 30.2 डिग्री पहुंचा था। रात के तापमान में इजाफे की मुख्य वजह गर्म पछुआ हवा है। इसके कारण हवा में नमी कम हो गई है। ऐसे में हीट इंडेक्स बढ़ जा रहा है। रात में बेतहाशा गर्मी से लोगों की तबीयत खराब होने लगी है। उधर, बीते 24 घंटे में दिन के तापमान में आंशिक गिरावट हुई। शनिवार को अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस था। जो रविवार 41.6 डिग्री सेल्सियस रहा। यह सामान्य से 3.5 डिग्री सेल्सियस अधिक है। मौसम विभाग के मुताबिक दिन और रात के तापमान में अभी इजाफा होगा। दिन का तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। रात में भी पारा अभी और उपर जा सकता है। फिजिशियन डॉक्टर सिद्धार्थ शंकर श्रीवास्तव ने बताया कि तेजी से बढ़ते तापमान का असर दिल व दिमाग पर पड़ता है। ज्यादा गर्मी में हार्ट रेट वेरिबिएलिटी घट जाती है। इससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। सर्वाधिक खतरा अस्थमा, डायबिटीज, हाई बीपी और हार्ट के मरीजों को रहता है। तापमान में 10 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा का उतार-चढ़ाव शरीर पर खासा असर डालता है।

100 साल में चौथी सबसे गर्म रात

मौसम विभाग के वैज्ञानिक बताते हैं कि रविवार को मई माह में तापमान के लिहाज से बीते 100 साल में चौथी सबसे गर्म रात थी। 1985 में मई में रात का तापमान 32.4 डिग्री सेल्सियस तक चला गया था। वहीं वर्ष 1974 में मई में संख्या के लिहाज से सबसे ज्यादा गर्म रातें रहीं थीं। वर्ष 1974 में मई में रात का तापमान 30.7 तक पहुंच गया था। एक बार तापमान 30.5 डिग्री सेल्सियस भी रहा।

राजनीतिक दलों का दावा, गर्मी से निपटने का है इंतजाम

भीषण गर्मी में गोरखपुर लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी रवि किशन शुक्ला और सपा प्रत्याशी काजल निषाद पूरा जोर लगा रही हैं। राजनीतिक दलों की तरफ से दावा किया जा रहा है एक जून की वोटिंग को लेकर उनके पास पुख्ता इंतजाम है। भाजपा के क्षेत्र उपाध्यक्ष डॉ.सत्येन्द्र सिन्हा का कहना है कि बूथों तक वोटरों को लाने के लिए ई-रिक्शा और ऑटो का इंतजाम है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष निर्मला पासवान कहती हैं कि बूथों पर पानी का इंतजाम कराया जा रहा है

Viren Singh

Viren Singh

पत्रकारिता क्षेत्र में काम करते हुए 4 साल से अधिक समय हो गया है। इस दौरान टीवी व एजेंसी की पत्रकारिता का अनुभव लेते हुए अब डिजिटल मीडिया में काम कर रहा हूँ। वैसे तो सुई से लेकर हवाई जहाज की खबरें लिख सकता हूं। लेकिन राजनीति, खेल और बिजनेस को कवर करना अच्छा लगता है। वर्तमान में Newstrack.com से जुड़ा हूं और यहां पर व्यापार जगत की खबरें कवर करता हूं। मैंने पत्रकारिता की पढ़ाई मध्य प्रदेश के माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्विविद्यालय से की है, यहां से मास्टर किया है।

Next Story