Top

कोरोना ने एक ही परिवार के 3 लोगों की ली जान, सदमें में महिला ने की आत्महत्या

देश में कोरोना का आकड़ा दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है। हर रोज हजारों की संख्या में नए मरीज सामने आ रहे हैं।

Shweta

ShwetaPublished By Shweta

Published on 22 April 2021 6:51 AM GMT

कोरोना
X

अस्पताल ( फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्लीः देश में कोरोना का आकड़ा दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है। हर रोज हजारों की संख्या में नए मरीज सामने आ रहे हैं। कोरोना के बढ़ते रफ्तार सरकार के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है। इस दौरान कोरोना ने मध्य प्रदेश के एक ही परिवार के तीन लोग कोरोना के गाल में समा गए।

बता दें कि मध्य प्रदेश के देवास के अग्रवाल समाज के अध्यक्ष बालकिशन गर्ग की पत्नी और दो बेटों की कोरोना से मौत हो गई। जिसका सदमा घर की छोटी बहू सहन नहीं कर सकी और खुद को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

दरअसल गर्ग परिवार में बालकिश के अलावा बड़ी बहू और पोते-पोतियां रहती हैं। सूत्रों की माने तो बालकिशन गर्ग की पत्नी चंद्रकाल (75) को सबसे पहले कोरोना हुआ। जिसके बाद 14 अप्रैल को उनकी जान चली गई। इसके दो दिन के बाद बेटा संजय (51) और फिर स्वपनेश (48) की कोरोना से मौत हुई। घर हुई इन मौतों को देखकर छोटी बहू रेखा (45) इस सदमे को सहन नहीं कर सकी और बुधवार को उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। एक सप्ताह में पूरा परिवार उजड़ गया।

थोक व्यापार

आपको बताते चले की गर्ग परिवार का किराना का थोक व्यापार है। जबकी घर की छोटी बहू इंदौर के मशहूर हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर राजेश अग्रवाल की छोटी बहन थी। इस घटना से पूरे इलाके में मातम छाया हुआ है।

पुलिस कर रही जांच

इस घटना के बाद से सिविल लाइन थाना पुलिस वारदात के मौके पर पहुंच कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जहां पोस्टमार्टम के बाद से परिजनों को शव सौंप दिया गया है। इस मामले में नगर पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह चौहान ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है। बता दें कि मध्यप्रदेश में कोरोना ने रफ्तार पकड़ लिया है। जबकी पिछले शनिवार को प्रदेश भर में कुल 53,628 सैंपल की जांच में 12,248 मरीज कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

Shweta

Shweta

Next Story