×

इंदौर चूड़ी विक्रेता पिटाई मामले में पकड़ा गया आरोपी एआईएमआईएम से निकला, पाकिस्तान का भी लिंक

इंदौर चूड़ी विक्रेता की पिटाई के मामले में नया मोड़ आ गया है।

Network

NetworkNewstrack NetworkRaghvendra Prasad MishraPublished By Raghvendra Prasad Mishra

Published on 30 Aug 2021 2:11 PM GMT

bangle seller thrashing
X

चूड़ी विक्रेता की पिटाई की फाइल तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

इंदौर: इंदौर चूड़ी विक्रेता की पिटाई के मामले में नया मोड़ आ गया है। पिटाई मामले में जहां एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने चूड़ी विक्रेता के पक्ष में पिटाई करने वालों को उग्रावादी भीड़ बता डाला था, वहीं उसकी पिटाई करने वाला एआईएमआईएम का सदस्या निकला है। सूत्रों की मानें तो उसका पाकिस्तान से भी कनेक्शन है। हालांकि मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र ने चूड़ी वाले की पिटाई मामले में खुलासा करते हुए बताया था कि उसके पास से बरामद आधार कार्ड व अन्य चीजें फर्जी हैं। वह हिंदू बनकर चूड़ियों को बेचता था, जबकि असल में वह दूसरे धर्म से था।

नरोत्तम मिश्र के इस खुलासे के बाद ओवैसी ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए इसे हिंदू-मुस्लिम रंग देने की कोशिश की थी। उन्होंने पिटाई करने वाली भीड़ को उग्रवादी भीड़ कहते हुए राज्य के गृह मंत्री के बयान की आलोचना भी की थी। उन्होंने कहा था कि एक चुनी हुई सरकार और उग्रवादी भीड़ में कोई अंतर नहीं रह गया है। वहीं अब हो रहे खुलासे में जानकारी मिल रही है कि पिटाई करने वाला युवक एआईएमआईएम से जुड़ा हुआ है और उसका कनेक्शन पाकिस्तान से भी है। इस खुलासे के बाद इस पूरे घटनाक्रम में नया मोड़ आ गया है। हालांकि अभी तक आधिकारिक तौर पर इस बात की पुष्टि नहीं की गई है।

गौरतलब है कि इंदौर से एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें कुछ लोग एक चूड़ी विक्रेता कि पिटाई करते हुए देखे गए थे। चूड़ी विक्रेता ने थाने में मारपीट और अपने साथ लूट का मुकदमा दर्ज कराया था। लेकिन मामले में नया मोड़ उस वक्त आ गया जब एक लड़की ने उसके खिलाफ छेड़छाड़ करने का मुकदमा दर्ज कराया। वहीं उसके पास से मिले कागजात भी फर्जी पाए गए थे, और उसे बाद में गिरफ्तार कर लिया गया था। इस मामले का काफी सियासी तूल भी दिया गया था।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story