Top

MP में जनता कर्फ्यू: बच्चे को पुलिस ने भेजा जेल, गया था बाजार से सामान लेने

एमपी के शहर इंदौर (Indore) में कर्फ्यू का पालन न करने पर एक छोटे से बच्चे को पुलिस अस्थायी जेल भेज दिया है।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 22 April 2021 8:46 AM GMT

MP में जनता कर्फ्यू: बच्चे को पुलिस ने भेजा जेल, गया था बाजार से सामान लेने
X

पुलिस वैन में उदास बैठा बच्चा (फोटो साभार- ट्विटर)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इंदौर: देश में कोरोना वायरस (Corona Virus) का कहर तेजी से बढता जा रहा है। दूसरी लहर की दस्तक होने के बाद संक्रमण की रफ्तार बेकाबू हो चुकी है। कई राज्यों में महामारी से हाहाकार मच गया है। जिसके बाद राज्यों ने सख्ती बढ़ानी शुरू कर दी है। कई प्रदेश में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew), वीकेंड लॉकडाउन (Weekend Lockdown) और लॉकडाउन (Lockdown) जैसी सख्तियां लागू हैं।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी बढ़ते कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामलों को देखते हुए सूबे के शिवराज सिंह चौहान सरकार (Shivraj Singh Chauhan Government) ने प्रदेश भर में 30 अप्रैल तक जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) लगा दिया है और सख्तियों को और बढ़ा दिया है। इसके साथ ही सीएम ने निर्देश दिए हैं कि जनता कर्फ्यू का कड़ाई से पालन किया जाएगा।

पुलिस ने बच्चे को भेजा अस्थायी जेल

इस बीच, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एमपी के शहर इंदौर (Indore) में कर्फ्यू का पालन न करने पर एक छोटे से बच्चे को पुलिस अस्थायी जेल भेज दिया है। इस मामले को लेकर कांग्रेस के विधायक कुणाल चौधरी (Kunal Choudhary) ने प्रशासन पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया कि इस बच्चे का अपराध सिर्फ इतना है कि यह अपने परिवार के लिए किराना लेने निकला था और उसे अस्थाई जेल ले जाया जा रहा है शर्म करो इंदौर प्रशासन! शर्मनाक

इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी यूजर्स बच्चे के साथ ऐसा व्यवहार करने पर प्रशासन की आलोचना कर रहे हैं। आपको बता दें कि पुलिस प्रशासन ने जनता कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले 226 लोगों को ने अस्थायी जेल भेजा है। इस बीच कलेक्टर मनीष सिंह ने जनता से अपील की है कि वे जनता कर्फ्यू के नियमों का पालन करें और आवश्यक हो तभी घर से बाहर निकलें।

इस बीच सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिया कि कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए जिले से लेकर प्रत्येक गांव में 30 अप्रैल तक जनता कर्फ्यू का शत-प्रतिशत क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए।

Shreya

Shreya

Next Story