Top

हर तरफ ऑक्सीजन की मारा-मारी: राज्यों में रोके जा रहे टैंकर, हो रही मौतें

बढ़ते मामलों के बीच मध्य प्रदेश के ऑक्सीजन के टैंकर को अन्य राज्यों में रोके जा रहे हैं। फिर यूपी सीएम योगी से बात करने के बाद टैंकर छोड़े गए।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 20 April 2021 3:24 AM GMT

कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है।
X

ऑक्सीजन के टैंकर (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भोपाल: मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौते हो रही हैं, इधर प्रदेश के ऑक्सीजन के टैंकर को अन्य राज्यों में रोके जा रहे हैं। बीते सोमवार को गाजियाबाद के मोदी नगर और झांसी में मध्य प्रदेश आ रहे ऑक्सीजन के टैंकर को रोक लिया गया। इस बारे में मिली जानकारी में बताया कि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने टैंकर के बारे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। फिर इसके बाद टैंकर छोड़े गए।

ऐसा ही किस्सा गुजरात में भी हुआ। यहां भी टैंकर को रोका गया। इसके बाद ये टैंकर मध्य प्रदेश तब रवाना हो पाए, जब सीएम शिवराज ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से बात की। जिसके चलते इन घटनाओं को मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के साथ हुई बैठक में भी शेयर किया।

गृहमंत्री निकाले कोई समाधान

इस मुद्दे को लेकर कुछ मंत्रियों ने सुझाव दिया कि जिस तरह से देश में कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है, इस तरह की दिक्कतें हर रोज सामने आएंगी। जिसके चलते गृह मंत्री से बात कर स्थाई समाधान होना चाहिए। जबकि एक मंत्री ने ये सुझाव दिया कि ऑक्सीजन के टैंकरों में मप्र पुलिस के जवानों के बजाय गृह मंत्रालस से सीआरपीएफ के जवानों को तैनात करने की बात होना चाहिए।

बता दें, शहडोल के बाद अब राजधानी भोपाल मे ऑक्सीजन के लिए हाहाकार मचा हुआ है। सोमवार को राजधानी के पीपुल्स हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कमी से 10 से 12 लोगों की मौत हुई थी। है, लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने इससे इनकार किया है।


मरीजों को तेजी से रिकवरी

इस बारे में अस्पताल प्रबंधन का ये तर्क दिया है कि सुबह ऑक्सीजन सप्लाई कुछ देर के लिए बाधित जरूर हुई थी, लेकिन इसकी वजह से मौतें नहीं हुई हैं। बीते कई दिनों से पीपुल्स अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी और मरीजों की परेशानी सामने आ रही थी।

वहीं राज्य में तेजी से बढ़ते आकड़ों के बीच ये एक अच्छी खबर है कि रिकवरी रेट में हर दिन कुछ न कुछ सुधार हो रहा है। बीते 5 दिन में 32 हजार से अधिक लोग कोरोना से जंग जीतकर अपने घर लौट चुके हैं।

ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, बीते पांच दिन में 32 हजार 294 कोरोना संक्रमित व्यक्ति कोरोना से जंग जीत कर घर वापस लौटे। जबकि 15 अप्रैल को 3970, 16 अप्रैल को 7496, 17 को 6497, 18 को 7495 और 19 अप्रैल को 6836 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ हुए। जोकि सच में बहुत बड़ी राहत की खबर है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story