Top

रामलीला बंद कराने गई थी पुलिस, गांव वालों ने किया ऐसा

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के गांववालों ने रामलीला रुकवाने गई पुलिस पर अचानक से जमकर पथराव कर दिया।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkRoshni KhanPublished By Roshni Khan

Published on 22 April 2021 7:44 AM GMT

people pelted stones on police in ratlam
X

रतलाम पुलिस (फोटो-सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रतलाम: मध्य प्रदेश के रतलाम से अजीबो-गरीब खबर आ रही है। जिले के गांववालों ने रामलीला रुकवाने गई पुलिस पर अचानक से जमकर पथराव कर दिया। हमले में पुलिसकर्मियों ने भागकर अपनी जान बचाई। हमले में तीन पुलिसकर्मी घायल हुए, जिनमें एक सब इंस्पेक्टर, कॉन्सेटबल और डायल 100 का ड्राइवर शामिल हैं। जैसे ही इस बात की सूचना मिली SDOP और थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ स्पॉट पर पहुंचे और गांववालों से बात की।

मिली जानकारी के अनुसार, ये हमला बुधवार की रात को हुआ है। इस बात की जानकारी किसी ने डायल 100 को दी कि आलोट से 10 किलोमीटर दूर बर्डिया राठौर गांव में रामलीला चल रही है और उसमें करीब 300 लोग मौजूद हैं। इलाके में लॉकडाउन लगा है, इसलिए पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच गयी। पुलिस ने उनसे रामलीला बंद करने को कहा तो वे नहीं माने और विवाद करने लगे। जिसके बाद कुछ गांववालों ने इलाके की लाइट बंद की और उन पर पथराव शुरू कर दिया।

पुलिस ने बल प्रयोगकर गांववालों को भगाया

गांववालों द्वारा किये गए इस हमले में सहायक उप निरीक्षक आरसी गौड़, आरक्षक विक्रम चौधरी और डायल 100 का ड्राइवर अशोक चौहान घायल हो गए। घायल पुलिसकर्मी थाने पहुंचे और ग्रामीणों के अचानक किए गए हमले की जानकारी दी।

कोरोना से प्रदेश की हालत बेकार

खास बात ये है कि, रतलाम में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। जिस वजह से वहां लॉकडाउन लगाया गया था। आपको बता दें, प्रदेश भर में 21 अप्रैल को 13107 कोरोना के नए मामले सामने आए। मध्य प्रदेश में 82268 एक्टिव मरीज़ों की संख्या हुई।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story