×

Madhya Pradesh: बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने पहुंचे राज्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा, खुद ही फंसे मझधार में, देखें ये वायरल वीडियो

Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश में तमाम जिलों में हर तरफ पानी ही पानी है। यहां के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए है।

Network

NetworkNewstrack NetworkVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 5 Aug 2021 4:17 AM GMT

Madhya Pradesh, there is water everywhere in all the districts.
X

नरोत्तम मिश्रा को किया गया एयरलिफ्ट (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश में तमाम जिलों में हर तरफ पानी ही पानी है। इन जिलों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए है। ऐसे में राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा बीते दिन बुधवार को दतिया में हालातों का जायदा लेने पहुंचे। लेकिन यहां कुछ ऐसा हुआ, जो गृहमंत्री को ही भारी पड़ गया।

असल में दतिया में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंचे थे। लेकिन इस बीच वे खुद ही बाढ़ में फंस गए। जिससे उनको बचाने के लिए कई जतन-प्रयत्न करने पड़े।

खुद फंसे गृहमंत्री

नरोत्तम मिश्रा जिले का हवाई दौरा कर रहे थे। तभी हवाई जहाज पर से उन्होंने कोटरा गांव में एक घर की छत पर जब कुछ लोगों को फंसा देखा, तो उन्होंने मदद करने का सोचा। फिर वे खुद ही घर की छत पर नीचे की तरफ उतर गए। और वहां से सभी को सुरक्षित तरीके से निकलवा लिया गया। और गृहमंत्री को भी वायुसेना से एयरलिफ्ट करके वहां से निकाला गया।

जबरदस्त बारिश से हालात हद से ज्यादा बेकाबू हो गए। यहां ग्वालियर में भारी बारिश और डैम से छोड़े गए पानी की वजह से हर तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। लगातार राहत और बचाव के लिए सेना और वायुसेना की जुटी हुई है।

यहां वायुसेना की मदद से हेलीकॉप्टर से लोगों को बचाया जा रहा है। पर लगातार भारी बारिश की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन में सेना को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

ऐसे में सैकड़ों गांवों में हालात काफी ज्यादा खराब हो गए हैं। कई गांवों में पानी के तेज बहाव के कारण रेस्क्यू टीम तक नहीं पहुंच पा रही है। लोग पहाडों, मंदिर, खुले मैदान, ट्रैक्टर ट्राली में रहकर किसी तरह अपनी जान बचा रहे हैं।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story