×

Nawab Malik Arrested: पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने किया नवाब मालिक पर हमला, बोले मालिक ने डरा धमाकर जमीनें खरीदी और दुश्मनों को बेचा

मनी लांड्रिंग के मामले को लेकर प्रवर्तन निदेशालय ने एनसीपी नेता और महाराष्ट्र कैबिनेट के नवाब मलिक को आज गिरफ्तार कर लिया है। नवाब के गिरफ्तारी पर भारतीय जनता पार्टी लगातार उन्हें मंत्री पद से हटाने की मांग कर रही है।

Bishwa Maurya
Updated on: 23 Feb 2022 5:36 PM GMT
Devendra Fadnavis
X

देवेंद्र फडनवीस - नवाब मलिक (तस्वीर साभार : सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंबई। महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार में ताकतवार मंत्री माने जाने वाले एनसीपी नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) की गिरफ्तारी ने राज्य की राजनीति में उबाल ला दिया है। शिवसेना (Shiv Sena) और एनसीपी (NCP) जहां इसे लेकर मोदी सरकार पर हमलावर हैं। वहीं महाराष्ट्र बीजेपी (BJP) मलिक की गिरफ्तारी के बाद उन्हें पद से हटाने की मांग कर रही है। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र में बीजेपी के सबसे नेता देवेंद्र फडनवीस (Devendra Fadnavis) ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। फडनवीस ने इसे गंभीर मामला करार देते हुए सभी सिय़ासी पार्टियों को एकसाथ आने की सलाह दी है।

देवेंद्र फडनवीस की प्रतिक्रिया

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडनवीस ने महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक की गिरफ्तारी के बाद कहा कि ये बेहद गंभीर मामला है, राजनीतिक नहीं। उन्होंने कहा कि डरा धमाकर जमीन खरीदी गई और उसे दुश्मनों को बेचा गया। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) जमीनों के जरिए ही टेरर फंडिग (Terror funding) करता है। फडनवीस ने जमीन बेचने वाली महिला का जिक्र करते हुए कहा कि उसने ईडी (ED) को बताया कि इस सौदे में उसे एक भी पैसे नहीं मिला। उससे गलत बोलकर पॉवर ऑफ अटॉर्नी ली गई और बाद में डराया धमकाया गया।

पूर्व सीएम ने कहा कि हजारों करोड़ों रूपए की जमीन मात्र 30 लाख में रूपये में खरीदी गई। ईडी ने बताया कि इसमे 55 लाख रूपया दाऊद की बहन हसीना पारकर (Haseena Parkar) को फायदा हुआ है। मुंबई में दाऊद का सारा रियल स्टेट का धंधा हसीना पारकर ही संभालती है। फड़नवीस ने इसे लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि राज्य के एक मंत्री का देश के दुश्मन के साथ रिश्ते रखने का क्या कारण है। हसीना पारकर को मिले ये पैसे दाऊद के पास गए। फिर ये मुंबई हमलों समेत अन्य गलत कामों के लिए यूज हुआ।

महाराष्ट्र सरकार पर साधा निशाना

कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक में उतरी पूरी महाराष्ट्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि दाऊद जैसे देश के दुश्मन को मदद, जिसके माध्यम से हुई उसका बचाने के लिए, उसके मंत्री पद को बचाने के लिए पूरी सरकार खड़ी है। इसका देश को जवाब महाराष्ट्र सरकार को देना होगा।

उन्होंने इस मुद्दे पर सभी सियासी दलों से एकसाथ आने की अपील करते हुए कहा कि इस कार्रवाई का समर्थन करना चाहिए। दाऊद ने अबतक देश में जितने भी आतंकी वारदात को अंजाम दिए, उसके लिए पैसे इन्हीं प्रकार के डील से एकत्रित किए गए हैं। बता दें कि देवेंद्र फड़नवीस ने ही सबसे पहले नवाब मलिक में दाऊद के साथ रिश्ते रखने का आरोप लगाया था। वहीं नवाब मलिक को स्पेशल अदालत ने 8 दिन के लिए ईडी के पास रिमांड पर भेज दिया है।

Bishwa Maurya

Bishwa Maurya

Next Story