Top

महाराष्ट्र में गहराया संकट, सिर्फ तीन दिन की बची कोरोना वैक्सीन

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया है कि उनके पास केवल 3 दिन का ही वैक्सीन का स्टॉक बचा है।

Shreya

ShreyaPublished By Shreya

Published on 7 April 2021 9:21 AM GMT

महाराष्ट्र में गहराया संकट, सिर्फ तीन दिन की बची कोरोना वैक्सीन
X

महाराष्ट्र में बड़ा संकट: सिर्फ 3 दिन की बची वैक्सीन (फोटो- न्यूजट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: देश में एक बार फिर कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ने लगा है। आए दिन सामने आए रहे हजारों-लाखों मामलों से कोविड-19 का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। वहीं, महामारी ने एक बार फिर से महाराष्ट्र की हालत खस्ता कर दी है। इस बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बड़ा बयान दिया है।

राज्य में हुई कोरोना के नए स्ट्रेन की एंट्री

स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि उन्हें शक है कि प्रदेश में कोविड के नए स्ट्रेन की एंट्री हो चुकी है। जिस वजह से महामारी तेजी से फैल रही है। वहीं, इसके लिए राज्य सरकार ने कुछ सैंपल चेक करने के लिए भेजे हैं। इतना ही नहीं इस बीच राज्य से चिंताजनक बात सामने आ रही है। दरअसल, स्वास्थ्य मंत्री ने बताया है कि उनके पास केवल तीन दिन का ही वैक्सीन का स्टॉक बचा है। ऐसे में वैक्सीन की सप्लाई तेजी से होना जरूरी है।

(फोटो- न्यूजट्रैक)

20-40 साल के लोगों को वैक्सीन देने की मांग

मंत्री ने कहा कि कई वैक्सीनेशन सेंटर्स पर उचित मात्रा में वैक्सीन की डोज नहीं है, ऐसे में लोगों को वापस भेजा जा रहा है। उन्होंने कहा हमने केंद्र से 20-40 साल के लोगों को भी वैक्सीन देने की मांग की है। मंत्री के मुताबिक, अभी राज्य में 14 लाख वैक्सीन की डोज बची है, जो कि अगले तीन दिनों में खत्म हो जाएंगी। हमने हर हफ्ते 40 लाख वैक्सीन डोज़ की मांग की है।

उन्होंने यह भी कहा कि हम ये नहीं कह रहे हैं कि केंद्र वैक्सीन नहीं दे रहा है, लेकिन वैक्सीन की सप्लाई तेजी से होना जरूरी है। अभी वैक्सीन देने की रफ्तार काफी कम है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि वैक्सीनेशन करने के मामले में महाराष्ट्र पहले नंबर पर है। यहां पर अब तक तक 85 लाख से अधिक वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है। हर रोज यहां पर करीब 4 लाख से अधिक डोज दी जा रही है।

(फोटो- न्यूजट्रैक)

आंध्र प्रदेश ने भी की ये मांग

वहीं, महाराष्ट्र के बाद आंध्र प्रदेश ने भी वैक्सीन की डिमांड की है। आंध्र प्रदेश की सरकार ने केंद्र की मोदी सरकार से तुरंत प्रभाव से एक करोड़ डोज मांगी है। सरकार के मुताबिक, उनके पास अभी केवल वैक्सीन की 3.7 लाख डोज हैं, राज्य में रोजाना 1.3 लाख डोज दी जा रही है। अगर हमारे पास अधिक वैक्सीन होती है तो हम ज्यादा भी लगा सकते हैं।

वहीं, वैक्सीन की कमी को लेकर केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि किसी भी राज्य में वैक्सीन की न तो कमी है, ना ही रहने दी जाएगी। हम राज्यों की जरूरत के मुताबिक, सबको वैक्सीन पहुंचा रहे हैं।

Shreya

Shreya

Next Story