Top

एंटीलिया केसः अनिल देशमुख का सच आया सामने, वाजे का बड़ा खुलासा

सचिन वाजे ने आरोप लगाया है कि उनकी बहाली के लिए शरद पवार को मनाने के लिए अनिल देशमुख ने 2 करोड़ रुपये की मांग की थी।

Shreya

ShreyaPublished By Shreya

Published on 7 April 2021 12:23 PM GMT

एंटीलिया केसः अनिल देशमुख का सच आया सामने, वाजे का बड़ा खुलासा
X

एंटीलिया केसः अनिल देशमुख का सच आया सामने, वाजे का बड़ा खुलासा (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: 100 करोड़ वसूली प्रकरण में फंसे महाराष्ट्र से पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ती नजर आ रही हैं। दरअसल, एंटीलिया केस के आरोपी सचिन वाजे ने आरोप लगाया है कि 2020 में उनकी बहाली के लिए शरद पवार को मनाने के लिए अनिल देशमुख ने मुझसे दो करोड़ रुपये की मांग की थी। वाजे के इस बयान के बाद एक बार फिर देशमुख सुर्खियों में आ गए हैं।

देशमुख ने की थी दो करोड़ रुपये की मांग-वाजे

दरअसल, वाजे ने आरोप लगाया कि साल 2020 में उन्हें बहाल किए जाने के बाद तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बताया था कि शरद पवार उनकी बहाली रद्द करना चाहते थे। वाजे ने कहा कि गृह मंत्री ने मुझे यह भी बताया कि वो पवार को मना लेंगे, लेकिन उन्होंने मुझसे इस काम के लिए दो करोड़ रुपये की मांग की थी। जिस पर मैंने इतनी बड़ी राशि का भुगतान करने में असमर्थता जताई थी। इस पर गृह मंत्री ने मुझे बाद में भुगतान करने के लिए कहा था।

यही नहीं वाजे ने यह भी बताया कि बीते साल अक्टूबर में तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख ने उसे सह्याद्री गेस्ट हाउस में बुलाया था और उसे शहर के एक हजार 650 बार और रेस्तरां से पैसा इकट्ठा करने के लिए कहा था। जिस पर मैंने यह कहते हुए मना कर दिया कि यह करना क्षमता के बाहर है।

(फोटो- सोशल मीडिया)

बयान के बाद देशमुख की बढ़ीं मुश्किलें

अब वाजे के इस खुलासे के बाद अनिल देशमुख की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई हैं। आपको बता दें कि मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर पर एक चिट्ठी में देशमुख पर आरोप लगाया है कि तत्कालीन गृह मंत्री ने वाजे को सौ करोड़ रुपये की वसूली का जिम्मा सौंपा था। अब इस मामले में हाई कोर्ट ने सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं। हालांकि उद्धव सरकार बॉम्बे हाई कोर्ट के इस आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है।

9 अप्रैल तक NIA कस्टडी में रहेगा वाजे

वहीं, अगर बात करें वाजे की तो वह एंटीलिया केस और मनसुख हिरेन की हत्या के मामले में आरोपी है। अब उसे 9 अप्रैल तक एनआईए की कस्टडी में रहना होगा। स्पेशल कोर्ट ने एनआईए की मांग पर उसकी हिरासत के दो दिन और बढ़ा दिए हैं।

Shreya

Shreya

Next Story