×

Maharashtra News: नवाब मलिक ने ट्विट कर कहा-दुबई जा रहा हूं, मेरे मूवमेंट ट्रैक करें सभी सरकारी एजेंसियां

Maharashtra News: महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने आज सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर पर ट्वीट करते हुए यह बताया है कि- 'दुबई जा रहा हूं, मेरे मूवमेंट ट्रैक करें सभी सरकारी एजेंसियां'

Network
Updated on: 19 Nov 2021 11:09 AM GMT
Maharashtra News: Nawab Malik tweeted and said – I am going to Dubai, all government agencies should track my movements
X

महाराष्ट्र: मंत्री नवाब मलिक: फोटो- सोशल मीडिया 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Maharashtra News: अभिनेता शाहरुख़ खान (Actor Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन खान के ड्रग मामले (Aryan Khan drug case) में फंसने से शुरू हुई यह कहानी महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक (Minister Nawab Malik) और एनसीबी मुंबई जोन के डायरेक्टर समीर वानखेड़े की लड़ाई के रूप में बढ़ती जा रही है।

नवाब मलिक ने वानखेड़े के खिलाफ नया खुलासा किया है। उन्होंने कुछ नए दस्तावेजों के दम पर दावा कर दिया है कि समीर वानखेड़े एक मुस्लिम हैं और उन्होंने खुद को अनुसूचित जाति का बताकर नौकरी ली थी।

नवाब मलिक ने कहा- दुबई जा रहा हूं

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने आज सोशल मीडिया प्लेटफार्म (social media platform) ट्विटर पर ट्वीट करते हुए यह बताया है कि- 'दुबई जा रहा हूं, मेरे मूवमेंट ट्रैक करें सभी सरकारी एजेंसियां' बता दें कि नवाब मलिक ने बॉम्बे हाई कोर्ट में समीर वानखेड़े के स्कूल प्रवेश फॉर्म और प्राथमिक स्कूल सर्टिफिकेस दिखाए हैं। उन सर्टिफिकेट के दम पर कहा जा रहा है कि समीर वानखेड़े मुस्लिम हैं और उन्होंने खुद को बचाने के लिए अब नकली सर्टिफिकेट बनवा दिए हैं।

22 नवंबर को कोर्ट का फैसला

बताया जा रहा है कि कोर्ट ने नवाब मलिक और वानखेड़े के तमाम दस्तावेज ले लिए हैं और अब 22 नवंबर को फैसला सुनाया जाएगा। जस्टिस माधव (Justice Madhav) ने बताया है कि वे 22 नवंबर को शाम साढ़े पांच बजे अपना फैसला सुनाने जा रहे हैं। उन्होंने ये भी निर्देश दे दिए हैं कि अब दोनों टीमें अपनी तरफ से कोई और दस्तावेज जारी नहीं करेंगी। नवाब मलिक की टीम के अलावा वानखेड़े की लीगल टीम ने भी दो दस्तावेज कोर्ट को सौंपे हैं। एक डॉक्यूमेंट तो बर्थ सर्टिफिकेट(birth certificate) है जहां पर एनसीबी मुंबई जोन के डायरेक्टर का नाम समीर ज्ञानदेव वानखेड़े बताया जा रहा है।

आईपीएस अधिकारी बदला लेने के लिए वानखेड़े उसके बच्चे को फंसा दिया था- नवाब मालिक

इसके पहले नवाब मालिक ने ट्वीट कर मलिक ने एक और बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि 'वानखेड़े ने हमेशा से ही बदले की भावना से कार्रवाई की है। उन्होंने बताया कि 'एक आईपीएस अधिकारी से वानखेड़े की अनबन चल रही थी। ऐसे में बदला लेने के लिए उसके बच्चे को 27 A के तहत फंसा दिया गया था।

मुंबई ड्रग्स केस से शुरू हुआ पूरा मामला

इस पूरे मामले की शुरुआत जरूर मुंबई ड्रग्स (Mumbai Drugs) केस से हुआ था, लेकिन इसको कोर्ट में ले जाने का काम समीर वानखेड़े के पिता ने किया था। उन्होंने नवाब मलिक पर मानहानि का केस ठोका था। समीर वानखेड़े ने भी कोर्ट से अपील की थी कि नवाब मलिक द्वारा उनके परिवार के खिलाफ कोई भी मानहानि कारक आरोप ना लगाए जाए। अब उसी मामले में नवाब मलिक ने झुकने के बजाय कोर्ट में कई दस्तावेज जमा करवा दिए। वे अभी भी जोर देकर कह रहे हैं कि वानखेड़े ने धोखा दिया है। झूठ का सहारा लेकर नौकरी पाई है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story