Top

बोर्ड परीक्षा से राहतः कोरोना संक्रमित छात्रों को छूट, माननी होगी शर्त

विद्यार्थी अगर कोरोना संक्रमित हो गया, तो वह अपनी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट दिखाकर बाद की तारीख में परीक्षा में बैठ सकता है।

APOORWA CHANDEL

APOORWA CHANDELPublished by APOORWA CHANDEL

Published on 10 April 2021 4:29 AM GMT

बोर्ड परीक्षा से राहतः कोरोना संक्रमित छात्रों को छूट, माननी होगी शर्त
X

फोटो-सोशल मीडिया

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शिलांग: मेघालय में बोर्ड परीक्षा को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई हैं। जिसमें राज्य सरकार ने बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों को लेकर एक अहम फैसला लिया है। जिसके मुताबिक अगर कोई छात्र परीक्षा के दौरान कोरोना संक्रमित हो जाता है तो वह अपनी परीक्षा को बाद में दे सकता है। लेकिन इसके लिए उसे अपनी कोरोना की आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट को दिखाना पड़ेगा तब जाकर उस छात्र को परीक्षा देने का मौका मिलेगा।

राज्य सरकार ने कोरोना से संक्रमित हो जाने वाले छात्रों को बाद की तारीख में बोर्ड परीक्षा में बैठने की अनुमति देने का निर्णय लिया है, जिसके लिए छात्र को अपनी कोरोना की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट को प्रमाण के रूप में दिखाना पड़ेगा।

शिक्षा मंत्री द्वारा बुलाई गई बैठक

16 अप्रैल शुरू होने जा रहे बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए शिक्षा मंत्री लाहमेन रिंबुई ने बैठक बुलाई। बैठक के बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए रिंबुई ने बताया कि, इस बैठक में यह फैसला किया है कि कोई भी परीक्षा देने वाला विद्यार्थी अगर कोरोना संक्रमित हो गया, तो वह अपनी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट दिखाकर बाद की तारीख में परीक्षा में बैठ सकता है।

परीक्षा के लिए तैयार छात्र

बता दें, लगभग एक लाख छात्र 16 अप्रैल और 19 अप्रैल से शुरू होने जा रहे हैं हायर सेकेंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट (HSSLC) और सेकेंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट (SSLC) परीक्षाओं के लिए तैयार हैं। जिसमें एसएसएलसी परीक्षा के लिए कुल 65 हजार 787 छात्र उपस्थित होंगे जबकि 32 हजार 506 छात्र एचएसएसएलसी परीक्षा के लिए उपस्थित होंगे।

Apoorva chandel

Apoorva chandel

Next Story