Top

असदुद्दीन ओवैसी बोले- तो क्या मोदी लाल किले पर झंडा फहराना बंद करेंगे

असदुद्दीन ओवैसी ने सोमवार को आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि क्या पीएम नरेंद्र मोदी लाल किले पर राष्ट्रीय झंडा फहराना बंद करेंगे।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 16 Oct 2017 11:53 PM GMT

असदुद्दीन ओवैसी बोले- तो क्या मोदी लाल किले पर झंडा फहराना बंद करेंगे
X
क्या मोदी लाल किले पर झंडा फहराना बंद करेंगे : संगीत सोम के बयान पर ओवैसी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हैदराबाद : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक संगीत सोम के ताजमहल को 'गद्दारों' द्वारा बनाए जाने के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सोमवार को आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि क्या पीएम नरेंद्र मोदी लाल किले पर राष्ट्रीय झंडा फहराना बंद करेंगे। हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने कहा कि यह बहुत आश्चर्यजनक है कि जिसने संविधान की शपथ ली है, वह अहंकार और अज्ञानता से बात कर रहा है।

ओवैसी ने कहा, "अगर वह जो कह रहे हैं वह सही है तो पीएम फिर क्यों लाल किले जाकर झंडा फहराते हैं क्योंकि लाल किला भी गद्दारों ने बनाया था।" उन्होंने सरकार को चुनौती दी कि वह यूनेस्को से ताजमहल को धरोहर की सूची से बाहर निकालने और विदेशी पर्यटकों को ताजमहन नहीं देखने के लिए कहे।

यह भी पढ़ें ... ताज विवाद: संगीत सोम बोले- बाबर-अकबर गद्दार, इतिहास से हटेगा नाम

ओवैसी ने कहा कि मोदी को विदेशी मेहमानों से हैदराबाद हाऊस में मिलना बंद कर देना चाहिए क्योंकि इसे भी 'गद्दारों' ने बनाया था। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता ऐसे मुद्दे उठाकर लोगों को ध्यान भटकाना चाहते हैं क्योंकि सरकार नौकरी देने, आतंकवाद और चीन से निपटने, नोटबंदी व जीएसटी के बाद जनता को हो रही परेशानियों से निपटने में विफल रही है। गौरक्षकों की ओर से लगातार किए जा रहे हमलों पर उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि इस मामले पर मोदी का बयान केवल एक दिखावटी बात थी।

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के अयोध्या में श्री राम की विशाल मूर्ति का निर्माण करवाने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि यह सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश का उल्लंघन है जिसमें कहा गया था कि सार्वजनिक धन का प्रयोग पूजा स्थल के निर्माण और रखरखाव के लिए खर्च नहीं किया जा सकता। सरकार को अपना ध्यान अस्पतालों की दशा सुधारना में लगाना चाहिए, जहां ऑक्सीजन आपूर्ति नहीं करने की वजह से कई बच्चों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें ... क्या CM योगी और ताज के बीच है 36 का आंकड़ा! इस बुकलेट में नहीं दी जगह

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story