×

ये है युवा नखलिस्तान, यहां की औरतें 65 की उम्र में भी रहती हैं जवान

Newstrack
Published on 15 Jun 2016 6:45 AM GMT
ये है युवा नखलिस्तान, यहां की औरतें 65 की उम्र में भी रहती हैं जवान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जयपुर:दुनिया में कई जनजातियां पाई जाती हैं। इन्हीं में एक प्रजाति हुंजा है जो पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के गिलकित-बालिस्टान के पास हुंजा घाटी में रहती है। हम इसके बारे में बात कर रहे हैं। इन्हें युवा नखिलिस्तान भी कहा जाता है। जहां की औरतें 65 साल की उम्र में भी यंग दिखती है। इन्हें 65-70 साल तक पीरियड होता है और उस उम्र तक बच्चों को जन्म भी देती हैं। इस जनजाति की खूबियां भी बहुत हैं। ये प्रजाति उत्तरी पाकिस्तान में पाई जाते है।

आगे पढ़िए और फोटो में देखिए हुंजा की खूबसूरती...

hunza-beauty

अप्सरा से कम नहीं

ये लोग खूब खूबानी खाते हैं। ये लोग इतने सुंदर दिखाई देते हैं जैसे ये इस धरती के नहीं, बल्कि आसमान से आए कोई देवता या अप्सरा हों। हुंजा की औरतें तो 65 साल की उम्र तक बच्चों को जन्म देती हैं। इन लोगों को देखकर आप ये अंदाजा लगा सकते हैं कि खानपान और अच्छी जीवनशैली लोगों के जीवन को प्रभावित करती है।

आगे पढ़िए इस जाति के लॉन्ग लाइफ के बारे में..

hunja-child

160 की लाइफ

उत्तरी पाकिस्तान के पहाड़ ही इनके घर हैं। इनकी संख्या 87 हजार के आसपास है। ये लोग इस मामले में खास हैं, क्योंकि इनका जीवनकाल डेढ़ सौ साल से भी ऊपर है। इनमें से अधिकतर लोग बिना किसी गंभीर स्वास्थ्य समस्या के अपना जीवन जीते हैं।कहते हैं कि इनमें से कुछ तो 160 साल तक भी जिंदा रहते हैं। वो बीमार पड़ते हों ऐसा बहुत कम देखा या सुना गया है। ट्यूमर जैसी बीमारी का तो उन्होंने कभी नाम ही नहीं सुना।

आगे पढ़िए इस जाति के लॉन्ग लाइफ के बारे में..

unja-janjaati

ये लोग बुढ़ापा में भी तंदुरुस्त और एक्टिव होते है। नेचर के बीच रहते रहते वैसे ही खूबसूरत हो जाते है।

आगे पढ़िए कैसे लोगं 0डिग्री तापमान पर ठंडे पानी से नहाते..

hunja-diet

0 डिग्री सेल्सियस पर ठंडे पानी से नहाते है।

हुंजा के लोग शून्य के भी नीचे के तापमान पर बर्फ के ठंडे पानी में नहाते हैं। ये लोग वही खाना खाते हैं जो ये खुद उगाते हैं। ये खूबानी, मेवे, सब्जियां और अनाज में जौ, बाजरा और कूटू ही खाते हैं।ये खाते कम हैं और टहलते ज्यादा हैं।15 से 20 किलोमीटर तक टहलना इनकी जीवनशैली में शामिल होता है। साथ ही साथ हंसना भी इनकी जीवनशैली में शामिल होता है।डॉक्टरों ने भी ये माना है कि इनकी जीवनशैली ही इनकी लंबी आयु का राज है।

Newstrack

Newstrack

Next Story