Top

बेंगलुरु: कराची बेकरी को मिली बम से उड़ाने की धमकी

कराची बेकरी के मैनेजर पी सुकुमार ने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी, जिसमें  उन्होंने बताया  कि पुलवामा में सीआरपीए के काफिले पर हुए आंतकी हमले के बाद उनकी बेकरी में करीब 12 से 15 लोग घुसे और बेकरी के नाम पर एतराज जता रहे थे। इस घटना के बाद पुलिस ने 9 लोगों को हिरासत मे भी ले लिया है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 28 Feb 2019 8:16 AM GMT

बेंगलुरु: कराची बेकरी को मिली बम से उड़ाने की धमकी
X
बेंगलुरु: कराची बेकरी को मिली बम से उड़ाने की धमकी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बेंगलुरु : पाकिस्तान और हिंदुस्तान के बीच सिर्फ सीमा पर ही नहीं बल्कि पूरे देश में तनाव बना हुआ हैं| गुस्से का आलम यह है कि पाकिस्तान से जुड़ी कोई भी नाम पर बवाल हो रहा है| इसी से जुड़ी एक घटना सामने आई हैं जिसमें 27 फरवरी की रात बेंगलुरु के कराची बेकरी के मैनेजर ने बताया कि 'कराची' शब्द को बोर्ड से नहीं हटाने पर उस स्टोर को बम से उड़ाने की धमकी मिली है।

बेंगलुरु पुलिस ने बताया, कॉल करने वाले ने खुद को अंडरवर्ल्ड डॉन विक्की शेट्टी बताया।

ये भी देखें:जानिए अपनी और पाकिस्तानी Air Force को, हिंदुस्तान जिंदाबाद था, है और रहेगा भी

कराची बेकरी के मैनेजर पी सुकुमार ने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी, जिसमें उन्होंने बताया कि पुलवामा में सीआरपीए के काफिले पर हुए आंतकी हमले के बाद उनकी बेकरी में करीब 12 से 15 लोग घुसे और बेकरी के नाम पर एतराज जता रहे थे। इस घटना के बाद पुलिस ने 9 लोगों को हिरासत मे भी ले लिया है।

बेकरी के मालिक ने आउटलेट बोर्ड से कराची शब्द को ढक दिया है। इस बारे में कराची बेकरी प्रबंधन ने अपनी तरफ से सफाई भी दी।

ये भी देखें:खौफ में पाकिस्तान, सीमा पर तनाव के चलते घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें की रद्द

सोश्ल मीडिया पर कराची बेकरी के नाम को लेकर काफी हंगामा मचा हुआ है। बेकरी के मालिक ने बताया की भारत-पाकिस्तान बंटवारे के दौरान वह भारत आ गए थे। पाकिस्तान के कराची से इस बेकरी का कोई लेना देना नहीं है। फिलहाल एतिहात के तौर पर कराची शब्द को ढक दिया गया है।

आपको बता दें, 14 फरवरी को पुलवामा हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। इस हमले को आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया था।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story