Top

जया के खिलाफ अमर्यादित बयान देने के मामले में आज़म खान पर FIR दर्ज

अपने बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने किसी का नाम नहीं लिया है। मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए। अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं, किसी का नाम लिया है, किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 15 April 2019 5:51 AM GMT

जया के खिलाफ अमर्यादित बयान देने के मामले में आज़म खान पर FIR दर्ज
X
आजम खान की फ़ाइल फोटो
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के लिए सियासी घमासान के बीच बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा के खिलाफ अश्लील टिप्पणी को लेकर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान की मुश्किलें अब और बढ़ती दिख रही हैं।

एक तरफ जहां आजम के खिलाफ इस बयान को लेकर केस दर्ज किया गया है, वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रीय महिला आयोग ने सख्ती दिखाते हुए कारण बताओ नोटिस भेजा है।

वहीं रामपुर से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आजम खान ने सोमवार को स्पष्ट किया कि उन्होंने फिल्म अभिनेत्री और बीजेपी उम्मीदवार जयाप्रदा के खिलाफ किसी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की है।

आजम खान की यह सफाई उस बयान के बाद आई है जिसमें उन्होंने एक रैली के दौरान जया प्रदा के खिलाफ ‘खाकी अंडरवियर’ वाला बयान दिया था। बता दें कि जयाप्रदा रामपुर से बीजेपी के टिकट पर आजम खान के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं।

ये भी पढ़ें...तृतीय चरण में अब तक आजम खान, संतोष गंगवार समेत 58 लोगों ने किया नामांकन

ये है पूरा मामला

रविवार को आजम खान ने जनसभा के दौरान जयाप्रदा पर निशाना साधते हुए कहा था। ‘जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया…उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पेहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है। ‘ हालांकि, उन्होंने इस बयान में जयाप्रदा का नाम नहीं लिया था।

समाचार एजेंसी एएनआई से आजम खान ने कहा कि उन्होंने अपने बयान में किसी का नाम नहीं लिया है। उन्होंने कहा कि अगर मैं दोषी साबित हो जाता हूं तो मैं लोकसभा चुनाव 2019 की उम्मीदवारी से अपना नाम वापस ले लूंगा और चुनाव नहीं लड़ूंगा।

…जब रैली में रो पड़ीं जयाप्रदा, बोलीं- मजबूरी में छोड़कर गई थी रामपुर, अब वो जयाप्रदा नहीं हूं

अपने बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने किसी का नाम नहीं लिया है। मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए। अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं, किसी का नाम लिया है, किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा।

आजम खान ने एएनआई से कहा कि ‘मैं दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था जो अस्वस्थ है। जिसने कहा था- मैं 150 राइफलें लेकर आया था और अगर मैंने उस दिन आजम खान को देखा होता तो गोली मार देता।’ उसके बारे में बात करते हुए, मैंने कहा, ‘लोगों को जानने में काफी समय लगा और बाद में पता चला कि उसने आरएसएस के शॉर्ट्स पहने थे।’

आजम खां पर केशव मौर्या ने साधा निशाना, बोले- रामपुर में आजम का होगा बेड़ा गर्क

आगे आजम खान ने कहा कि मैं रामपुर से नौ बार विधायक रह चुका हूं और मंत्री भी रह चुका हूं। मुझे पता कि मुझे क्या कहना चाहिए. अगर कोई यह साबित कर देता है कि मैंने किसी का नाम लेकर किसी का अपमान किया है और अगर यह साबित हो जाता है तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा। साथ ही उन्होंने मीडिया पर उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मैं हैरान हूं। मीडिया मुझे पसंद नहीं करता। मैं भी उन्हें पसंद नहीं करता।

ये भी पढ़ें...आजम खान के उर्दू गेट पर चला बुलडोजर, सार्वजनिक रोड पर जबरन कब्जे का आरोप

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story